दैनिक भास्कर हिंदी: आर्टिकल-35A पर राजनाथ ने कहा : कश्मीरियों के हक में ही काम करेगी मोदी सरकार

September 12th, 2017

डिजिटल डेस्क, कश्मीर। जम्मू-कश्मीर के नागरिकों को आर्टिकल-35A के तहत मिलने वाले स्पेशल राइट्स पर सोमवार को केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि, मोदी सरकार कोई भी ऐसा कदम नहीं उठाएगी, जो कश्मीरियों की उम्मीद और इच्छा के खिलाफ होगा। राजनाथ सिंह इन दिनों कश्मीर दौरे पर हैं और इस दौरान सोमवार को उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि हमारी सरकार जो भी करेगी, वो कश्मीरियों के खिलाफ नहीं होगा। 

सरकार वही करेगी जो कश्मीरियों के हक में होगा: राजनाथ

आर्टिकल-35A पर सवाल किए जाने पर राजनाथ सिंह ने साफ कर दिया कि उनकी सरकार ऐसा कुछ भी नहीं करेगी जो कश्मीरियों के खिलाफ होगा। उन्होंने कहा कि इस मामले में केंद्र सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया है और न ही कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। फिर भी इसे बेवजह ही मुद्दा बनाया जा रहा है। उन्होंने आगे कहा कि, 'मैं कश्मीरियों को भरोस दिलाना चाहता हूं कि हमारी सरकार लोगों की भावनाओं के खिलाफ कुछ भी नहीं करेगी।'

धारा-370 और आर्टिकल-35A को खत्म करने के मुद्दे पर क्या बोले? 

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान राजनाथ सिंह से जब पूछा गया कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और बीजेपी के कार्यकर्ता हमेशा से धारा-370 और आर्टिकल-35A को खत्म करने की मांग करते आए हैं। इस सवाल के जवाब में गृहमंत्री ने कहा कि, 'बीजेपी एक पॉलिटीकल ऑर्गनाइजेशन है और मैं बीजेपी के नेता और देश के गृहमंत्री के तौर पर बोल रहा हूं। इसलिए इस मुद्दे पर मैंने जो कुछ भी कहा है, उसे अंतिम माना जाना चाहिए।' 

अलगावी नेताओं की गिरफ्तारी पर क्या कहा? 

राजनाथ सिंह से जब अलगाववादी नेताओं की गिरफ्तारी को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि, 'NIA देश की सबसे बड़ी और प्रतिष्ठित इन्वेस्टीगेटिव एजेंसी है और वो कानून के मुताबिक ही अपना काम कर रही है। NIA कभी भी उन लोगों को नहीं रोकती जो सरकार के साथ बातचीत करना चाहते हैं।' इसके आगे उन्होंने कहा कि 'मैं हमेशा यहां खुले दिमाग से आता हूं, लेकिन लोगों को बातचीत के लिए तो आगे आना चाहिए।' उन्होंने कहा कि हम कश्मीर की समस्या को बातचीत के जरिए सुलझाना चाहते हैं और इसके लिए सभी को आमंत्रित भी करते हैं। उन्होंने कहा कि 'पीएम मोदी ने भी इस बात को कहा था कि कश्मीर की समस्या कश्मीरियों को गले लगाने से सुलझेगी, न कि गोली और गाली से।' 

कश्मीर समस्या सुलझाने के लिए दिया 5C का नारा

राजनाथ सिंह ने आगे कहा कि कश्मीर की समस्या को सुलझाने के लिए कई पॉजिटिव कदम उठाए जाएंगे। कश्मीर में शांति का पेड़ अभी सूखा नहीं है। उन्होंने कश्मीर समस्या सुलझाने के लिए 5C का नारा दिया। राजनाथ सिंह ने कहा कि, 'कश्मीर समस्या का समाधान इन 5C में है, जिसमें कंपेशन, कम्यूनिकेशन, को-एक्सिस्टेंस, कॉन्फिडेंस बिल्डिंग और कंसिस्टेंसी शामिल है।' राजनाथ सिंह अभी 4 दिन के दौरे पर कश्मीर में हैं और उन्होंने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो मैं 5 बार नहीं बल्कि 50 बार कश्मीर आऊंगा।