दैनिक भास्कर हिंदी: रिलायंस ने निरुपम को भेजा 1 हजार करोड़ के मानहानि का नोटिस

April 4th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। अनिल अंबानी के नेतृत्व वाले रिलायंस समूह ने मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम को एक हजार करोड रुपए की मानहानि का नोटिस भेजा है। रिलायंस ने निरुपम को यह नोटिस उनकी ओर से तीन अप्रैल को  रिलायंस के बिजली कारोबार के प्रस्तावित विक्री को लेकर दिए गए बयान को लेकर दिया है। कंपनी ने निरुपम के बयान को आधारहीन व मानहानि पूर्ण बताया है।

बिना शर्त मांगे माफ़ी 
कंपनी ने कहा है कि निरुपम तुरंत अपने बयान को वापस ले और 72 घंटे के भीतर बिना किसी शर्त के माफी मांगे। कंपनी ने कहा है कि वह निरुपम के खिलाफ बांबे हाईकोर्ट में न्यायालय की अवमानना की याचिका भी दायर करेगी। क्योंकि हाईकोर्ट ने निरुपम को अपने एक आदेश के तहत रिलायंस इनफ्रास्टेक्चर के खिलाफ मानहानी पूर्ण व गलत बयानबाजी करने से रोका था। 

क्या है मामला 
अनिल अंबानी की अगुवाई वाली रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्चर के शेयरधारकों ने पिछले महीने कंपनी के मुंबई के बिजली कारोबार को अडाणी ट्रांसमिशन को 18,800 करोड़ रुपये में बेचने की मंजूरी दी थी। इस अधिग्रहण के बाद अडाणी समूह के पास मुंबई में करीब 30 लाख उपभोक्ताओं को 1,800 मेगावॉट बिजली आपूर्ति की जिम्मेदारी आ जाएगी. साथ ही उसे 500 मेगावॉट की ताप बिजली उत्पादन क्षमता भी मिलेगी।

निरुपम ने आरोप लगाया था कि इससे मुंबई में बिजली मंहगी हो जाएगी। उन्होंने सवाल खडे किए थे कि घाटे वाली रिलायंस इंफ्रास्टेक्चर को अडानी की कंपनी ने इतनी उंची कीमत पर क्यों खरीद रही है।