comScore

बिना गठबंधन 2019 में सत्ता हासिल करना कांग्रेस के लिए कठिन: सलमान खुर्शीद

October 21st, 2018 16:23 IST
बिना गठबंधन 2019 में सत्ता हासिल करना कांग्रेस के लिए कठिन: सलमान खुर्शीद

हाईलाइट

  • कांग्रेसी नेता सलमान खुर्शीद ने कांग्रेस को सचेत रहने की सलाह दी
  • गठबंधन के लिए जो भी समझौते करने होंगे या बलिदान देना होगा: खुर्शीद
  • पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, अब कांग्रेस अकेले चुनाव लड़ने के बारे में नहीं सोच सकती है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पूर्व केंद्रीय मंत्री वरिष्ठ कांग्रेसी नेता सलमान खुर्शीद ने कांग्रेस को सचेत रहने की सलाह दी है। उनका मानना है कि अगले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का अकेले दम पर सत्ता में आना मुश्किल है, इसलिए सभी विपक्षी पार्टियों को एक होकर कांग्रेस नहीं, बल्कि भाजपा को रोकने की कोशिश करनी चाहिए। 


खुर्शीद ने कहा कि अगले लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराने के लिए सभी विपक्षी दलों को बलिदान और समझौता करना होगा। देश की सत्ता में परिवर्तन लाने के लिए गठबंधन बहुत ही जरूरी है और ये बात कांग्रेस के सभी नेता अच्छे से समझ चुके हैं। उन्होंने यह भी कहा कि गठबंधन के लिए जो भी समझौते करने होंगे या बलिदान देना होगा, उसके लिए कांग्रेस कुछ भी करने को तैयार है। यह तभी संभव है, जब दूसरे दल आपसी सामंजस्य दिखाएं।

अकेले दम पर सरकार बनाने की बात पर खुर्शीद ने कहा कि वर्तमान स्थिति देखते हुए यह कहना कठिन है। अकेले दम पर सरकार बनाने की बात सोचने के लिए हमें कम से कम 5 साल तक काम करना पड़ेगा। इसका कारण है, कांग्रेस का पिछले 3 साल से गठबंधन के लिए काम करना। अब कांग्रेस अकेले चुनाव लड़ने के बारे में नहीं सोच सकती है, इसके लिए पांच साल लंबी लड़ाई लड़नी पड़ेगी।

 
पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने कहा कि कांग्रेस एकमात्र ऐसी पार्टी है, जो देशभर में सीटें जीतेगी। बाकि सहयोगी दल अपने-अपने राज्य से जीत हासिल करेंग। बसपा और सपा से मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ औ राजस्थान विधानसभा चुनाव के पहले गठबंधन न होने पर उन्होंने कहा कि महागठबंधन का मकसद भाजपा को रोकना है। विपक्षी पार्टियों के लक्ष्य से भटकने पर महागठबंधन होना मुश्किल हो जाएगा। यह पार्टियों के साथ-साथ देश की भी हार होगी।

कमेंट करें
NedSw