दैनिक भास्कर हिंदी: केरल में CPM के पोस्‍टर में किम जोंग, संबित पात्रा बोले "मिसाइल न छोड़ दे लेफ्ट"

December 17th, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। केरल में माकपा के एक पोस्टर में उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग-उन की फोटो ने राजनीति में एक और नया मुद्दा उठा दिया है। जिस पर बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने टि्वटर पर एक पोस्ट करते हुए लिखा कि "वामपंथी पार्टी आरएसएस पर कहीं मिसाइल न छोड़ दे।" बता दें कि केरल में भाजपा-संघ और माकपा कार्यकर्ताओं के बीच खूनी टकराव की खबरें अक्सर सामने आती रहती हैं। बीजेपी केरल में अपने लिए राजनीतिक जमीन तलाशने की कोशिशों में लगी हुई है।  

 

 

 

 

सीपीएम ने दी सफाई

 

संबित पात्रा ने लिखा कि केरल में किम जोंग उन को सीपीएम के पोस्टरों में जगह मिल रही है, इसमें कोई शक नहीं है कि अब वे RSS और बीजेपी के दफ्तरों पर मिसाइल ना दाग दें। इस पोस्टर पर संबित के सवाल उठाने के बाद सीपीएम ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। सीपीएम के जिला सचिव ने सफाई देते हुए कहा कि "ये किसी लोकल कार्यकर्ता की गलती से हुआ है, हमने जल्द से जल्द ऐसे पोस्टरों को हटवाने के लिए आदेश दे दिए हैं। किन जोंग उन की नीतियां हमारी पार्टी की नीतियों से मेल नहीं खाती हैं।

 

 

माकपा के पोस्टर पर वामपंथी झंडे के बगल में किम जोंग उन को सलाम करते हुए दिखाया गया है। बता दें कि हाल ही में बीजेपी ने केरल में जन रक्षा यात्रा भी निकाली थी। इस यात्रा की शुरुआत बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह ने की थी। 3 अक्टूबर को शुरू की गई ये जन रक्षा यात्रा 15 दिनों तक चली थी। इस यात्रा में बीजेपी अध्यक्ष शाह के अलावा पार्टी के कई बड़े नेताओं ने भाग लिया था। यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी आदि बड़े चेहरे भी इस यात्रा में शामिल थे।

 

 

केरल में संघ सक्रिय  

 

हालांकि केरल में संघ सक्रिय है। केरल में बीजेपी की मौजूदगी बढ़ने के साथ ही सत्तारूढ़ वाम मोर्चा के साथ खूनी टकराव की घटनाओं में भी वृद्धि हुई है। कई बार दोनों पक्षों की ओर से एक दूसरे पर जानलेवा हमले किए गए। सीएम पिनराई विजयन के आश्वासन के बावजूद दोनों पक्षों में टकराव समाप्त नहीं हो रहा है। बीजेपी ने कहा था कि राज्य में वर्ष 2001 के बाद से 120 बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या की जा चुकी है, जिनमें से 84 लोग केवल कन्नूर में मारे गए। सीपीएम के सत्ता में आने के बाद से कन्नूर में 14 लोग मारे जा चुके हैं।