दैनिक भास्कर हिंदी: इमरान के शपथ ग्रहण में किसी विदेशी नेता को निमंत्रण नहीं, सिद्धू जाएंगे

August 2nd, 2018

हाईलाइट

  • सिद्धू ने कहा कि प्रतिभाशाली पुरुषों की प्रशंसा होती है। ताकतवर पुरुषों से लोग डरते हैं।
  • खिलाड़ी हमेशा पुल बनाने का काम करता है: सिद्धू।
  • इमरान की पार्टी पीटीआई ने हासिल की है आम चुनाव में जीत।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में किसी विदेशी नेता को निमंत्रित नहीं किया जाएगा। कार्यक्रम में सिर्फ इमरान के कुछ विदेशी दोस्त शामिल होंगे। पहले चर्चा थी कि इमरान 11 अगस्त को शपथ लेंगे। लेकिन, अब तारीख आगे भी बढ़ाई जा सकती है। पूर्व क्रिकेटर, पंजाब के पर्यटन और संस्कृति मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने इमरान खान को चरित्रवान बताया है। शपथ ग्रहण समारोह का निमंत्रण मिलने पर सिद्धू ने कहा कि वे समारोह में जरूर जाएंगे।

 

 

सिद्धू ने कहा कि प्रतिभाशाली पुरुषों की प्रशंसा होती है। ताकतवर पुरुषों से लोग डरते हैं। इसके उलट चरित्रवान पुरुषों पर लोगों को भरोसा होता है। उन्होंने कहा कि खान साहब पर भरोसा किया जा सकता है, वे चरित्रवान आदमी हैं।
 

 

सिद्धू ने कहा कि खिलाड़ी हमेशा पुल बनाने का काम करता है। वह बंदिशों का तोड़कर लोगों को जोड़ता है। बता दें कि इमरान खान की पार्टी पीटीआई ने 25 जुलाई को पाकिस्तान में हुए आम चुनाव में 116 सीटें जीतकर खुद को सबसे बड़ी पार्टी साबित किया था। पीटीआई प्रवक्ता फवाद हुसैन ने ट्वीट कर कहा कि मीडिया कयास लगा रहा था कि पीएम के शपथ ग्रहण में विदेशी नेताओं को बुलाया जाएगा, ये सही नहीं है। विदेश मंत्रालय से सलाह लेने के बाद ही इसका फैसला किया जाएगा।

 

 

निमंत्रण मिला तो जरूर जाऊंगा: कपिल देव
पूर्व दिग्गज खिलाड़ी कपिल देव ने कहा है कि उन्हें अभी तक निमंत्रण नहीं मिला है। यदि निमंत्रण मिलता है तो वे जरूर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में जाएंगे।

 

 

 

पाक को मोदी के न्योता ठुकराने की चिंता
अपने शपथ ग्रहण समारोह में इमरान खान ने सिद्धू के अलावा पूर्व क्रिकेटर सुनील गावस्कर, कपिल देव और बॉलीवुड स्टार आमिर खान को निमंत्रण भेजा है। जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत सार्क देशों के नेताओं को भी शपथ ग्रहण में बुलाए जाने की उम्मीद है। पाकिस्तान के एक अखबार के मुताबिक पीटीआई नेता शफाकत महमूद और शीरीन मजारी ने विदेश सचिव तहनिमा जन्जुआ से मिलकर विदेशी नेताओं को बुलाने पर बात की। पीटीआई नेता सार्क देशों के सदस्यों को बुलाना चाहते हैं। लेकिन उन्हें डर भी है कि मोदी आने से इनकार कर सकते हैं।

 

 

नवाज भी आए थे मोदी के शपथ ग्रहण में
भारत में लोकसभा चुनाव जीतने के बाद 2014 में मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में पाकिस्तान के तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ भी आए थे। ठीक डेढ़ साल बाद 25 दिसंबर 2015 को अफगानिस्तान से लौटते वक्त मोदी शरीफ को जन्मदिन की बधाई देने लाहौर में रुके थे।

 

 

शपथ ग्रहण में जाने वालों को माना जाए आतंकी: स्वामी
भाजपा के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने बयान दिया है कि जो लोग शपथ ग्रहण में शामिल होने पाकिस्तान जा रहे हैं, उन्हें आतंकवादी माना जाना चाहिए। स्वामी ने कहा कि खान के शपथ ग्रहण में जाने वाले लोगों को ब्लैकलिस्ट में डाल देना चाहिए। उन्हें आतंकवादी समझा जाना चाहिए।