उत्तर प्रदेश : मेरठ में मेजर ध्यानचंद के नाम पर बनेगी स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी- मुख्यमंत्री

November 12th, 2021

हाईलाइट

  • टोक्यो पैरा ओलंपिक में पदक जीतने वाले खिलाड़ियों का मेरठ में हुआ सम्मान

डिजिटल डेस्क, मेरठ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टोक्यो पैरा ओलंपिक में पदक जीतने वाले खिलाड़ियों का मेरठ में सम्मान किया। इस दौरान खिलाड़ी मुख्यमंत्री से पुरस्कृत होकर अभिभूत हो गए। ओलंपिक में पदक जीतने वाले 17 खिलाड़ियों को 31 करोड़ रुपये और उत्तर प्रदेश से भाग लेने वाले छह खिलाड़ियों को 1.50 करोड़ रुपए की पुरस्कार राशि दी गई। इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मेरठ में स्पोटर्स यूनिवर्सिटी बनने जा रही है, उसका नाम हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद के नाम पर होगा। इसके साथ ही टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने वाले प्रशिक्षकों को 10 लाख देने का ऐलान किया।

मेरठ के सरदार पटेल कृषि विश्वविद्यालय में गुरुवार को मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी के बावजूद प्रधानमंत्री के प्रोत्साहन से पैरा ओलंपिक में खिलाड़ियों ने जो प्रद्र्शन किया है, यह अबतक का सर्वश्रेष्ठ प्र्दशन है। इसके लिए इन खिलाड़ी और अधिक सम्मान होना चाहिए। पैरा ओलंपिक में भारतीय खिलाड़ियों ने पहली बार 19 पदक अर्जित किए हैं। उन्होंने कहा कि मेरठ खेलों के सामान के लिए भी जाना जाता है। 2018 में हमारी सरकार ने ओडीओपी योजना लागू की। इसमें मेरठ को खेलों के सामान के लिए चयन किया गया। इसके बाद मेरठ ने इस दिशा में एक लंबी छलांग लगाई है। मेरठ के खेल के सामानों की दुनिया में मांग है, लेकिन 2018 के बाद जो इस प्रगति हुई है, वह उल्लेखनीय है।

मुख्यमंत्री योगी ने पैरा ओलंपिक में रजत पदक जीतने वाले उत्तर प्रदेश के आईएएस सुहास एल वाई को पांच वेतन वृद्धि देने का भी ऐलान किया। उन्होंने कोरोना काल में सुहास एल वाई के किए गए कार्यों की भी सराहना की। उन्होंने कहा कि पहले ओलंपिक में पदक जीतने वाले खिलाड़ियों को ही सम्मानित किया जाता था। हमारी सरकार ने पहली बार पैरा ओलंपिक खिलाड़ियों को सम्मानित करना शुरू किया। उन्होंने कहा कि साढ़े चार सालों में खेल और खिलाड़ियों के लिए नया करने का प्रयास हुआ है। इससे पहले मुख्यमंत्री ने खेलों के सामान के स्टाल का निरीक्षण किया। इस दौरान सीएम योगी ने कैरम भी खेला। देश सरकार के खेल मंत्री उपेंद्र तिवारी ने अपने संबोधन में कहा कि खिलाड़ी अपने लिए नहीं खेलता है। वह प्रदेश और देश के लिए खेलता है। 73 वर्षों से पैरा खिलाड़ियों की मांग लंबित थी। उसे मुख्यमंत्री ने पूरा किया। उन्हें भी अन्य खिलाड़ियों की तरह मान सम्मान मिलेगा।

इन्हें मिला पुरस्कार

  • अवनी लखेरा -राजस्थान-शूटिंग 10 मीटर -स्वर्ण पदक - 02 करोड़
  • सुमित अंटिल - हरियाणा -एथलेटिक्स (जेबलिन थ्रो)-स्वर्ण पदक-02 करोड़।
  • मनीष नरवाल -हरियाणा -शूटिंग 50 मीटर -स्वर्ण पदक -02 करोड़
  • प्रमोद भगत - ओडिशा - बैडमिण्टन - स्वर्ण पदक - 02 करोड़
  • कृष्णा नागर - राजस्थान -बैडमिण्टन - स्वर्ण पदक -02 करोड़
  • भविना पटेल -गुजरात - टेबल टेनिस - रजत पदक - 1.50 करोड़
  • निषाद कुमार - हिमाचल प्रदेश - एथलेटिक्स (हाई जम्प)-रजत पदक - 1.50 करोड़
  • देवेन्द्र झाझरिया - राजस्थान -एथलेटिक्स (जेबलिन थ्रो) - रजत पदक - 1.50 करोड़
  • योगेश कठुनिया - हरियाणा - एथलेटिक्स (डिस्कस थ्रो) -रजत पदक-1.50 करोड़
  • प्रवीण कुमार -नोएडा, उप्र -एथलेटिक्स (हाई जम्प) -रजत पदक -04 करोड़।
  • मरियप्पन थंगावेलु - तमिलनाडु -एथलेटिक्स (हाई जम्प) - रजत पदक - 1.50 करोड़
  • सुहास एल वाई -उत्तर प्रदेश - बैडमिण्टन -रजत पदक - 04 करोड़
  • सिंघराज अघाना -हरियाणा - शूटिंग 50 मी - रजत पदक - 1.50 करोड़
  • सुन्दर सिंह गुर्जर - राजस्थान -एथलेटिक्स (जेबलिन थ्रो) -कांस्य पदक -01 करोड़
  • शरद कुमार -बिहार -एथलेटिक्स (हाई जम्प) -कांस्य पदक - 01 करोड़
  • हरविन्दर सिंह -हरियाणा - तीरंदाजी - कांस्य पदक -01 करोड़
  • मनोज सरकार - उत्तराखण्ड - बैडमिण्टन - कांस्य पदक -01 करोड़।
  • टोक्यो ओलंपिक गेम्स उत्तर प्रदेश के प्रतिभाग करने वाले खिलाड़ी
  • वरूण सिंह माटी - गौतमबुद्धनगर -पैरा एथलटिक्स - प्रतिभाग - 25 लाख
  • अजीत सिंह -इटावा -पैरा एथलटिक्स-प्रतिभाग -25 लाख
  • दीपेन्दर सिंह -सम्भल -पैरा शूटिंग- प्रतिभाग - 25 लाख
  • आकाश -बागपत -पैरा शूटिंग-प्रतिभाग - 25 लाख
  • विवेक चिकारा-मेरठ - पैरा आर्चरी- प्रतिभाग - 25 लाख
  • ज्योति - मुजफ्फरनगर -पैरा आर्चरी - प्रतिभाग - 25 लाख।

(आईएएनएस)