comScore

जन आशीर्वाद यात्रा: सीएम शिवराज के रथ पर पथराव, बीजेपी ने कांग्रेस पर लगाया आरोप

September 03rd, 2018 14:19 IST

हाईलाइट

  • सीधी के चुरहट में सीएम शिवराज के रथ पर हमला।
  • बीजेपी ने कांग्रेस पर लगाया हमला करने का आरोप।
  • पुलिस ने 20 संदिग्धों को गिरफ्तार किया, बांकी आरोपियों की तलाश जारी है।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। सीधी जिले के चुरहट में जनता से आशीर्वाद लेने पहुंचे मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के रथ पर बीती रात जमकर पथराव किया गया। जिस वक्त ये घटना हुई उस वक्त सीएम शिवराज रथ में सवार थे। पथराव से रथ का शीशा टूट गया, लेकिन शिवराज बाल-बाल बच गए। उन्हें किसी भी तरह की चोट नहीं आई। चुरहट थाना प्रभारी रामबाबू चौधरी के मुताबिक जिन अनैतिक तत्वों ने इस घटना को अंजाम दिया है उनमें से 20 संदिग्ध को पकड़ लिया गया है, बाकी तलाश की जा रही है।

बीजेपी ने इस पूरी घटना में कांग्रेस की साजिश बताई है। बीजेपी के नेताओं  का आरोप है पथराव कांग्रेस द्वारा कराया गया है। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हए ट्वीट किया और लिखा, 'चुरहट विधानसभा क्षेत्र में शिवराज सिंह चौहान की जन आशीर्वाद यात्रा के रथ पर किया गया पथराव कायराना हरकत है। सभ्य समाज में ऐसी हरकतों को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। जनता इस कायरता का करारा जवाब कांग्रेस को देगी'।

गौरतलब है कि मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर प्रदेश में जन आशीर्वाद यात्रा निकाल रहे हैं। रविवार रात को उनकी यह यात्रा नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह की विधानसभा चुरहट में पहुंची थी। इसी दौरान उसके रथ पर पथराव किया गया। मामले में चुरहट पुलिस ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के खिलाफ नारे लगाने, काला झंडा दिखाने और पत्थर मारने के आरोप में करीब 20 संदिग्ध लोगों को गिरफ्तार किया है। सभी को पूछताछ के लिए कमर्जी थाना लाया गया है। घटना के बाद मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह ने इस घटना का जिक्र अपने भाषण में किया। उन्‍होंने घटना को हिंसक राजनीति बताया। उन्‍होंने कांग्रेस नेता अजय सिंह अजय सिंह पर जमकर हमला बोला। उन्‍होंने कहा कि राजनीति क्या इतनी हिंसक हो जाएगी, क्या चोरी छिपे पत्थर मारे जाएंगे। उन्‍होंने कहा 'सुन लो अजय सिंह और राहुल गांधी मैं तुम्हारी गीदड़ भभकी से डरने वाला नहीं हूं।  मैं अपनी मेहनत के दम पर यहां तक पहुंचा हूं, ना कि अपने मां-बाप के सहारे।

कमेंट करें
f4CjU