नई दिल्ली : फिर दिल्ली की तरफ कूच करेंगे किसान

November 10th, 2021

हाईलाइट

  • किसान 29 नवंबर को दिल्ली की तरफ कूच करेंगे

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। तीन कृषि कानूनों के विरुद्ध एक बार फिर किसान दिल्ली के संसद भवन कूच करने वाले हैं। 29 नवंबर को 500-500 के जत्थों में किसान ट्रैक्टर समेत गाजीपुर बार्डर और टिकरी बार्डर से दिल्ली के संसद भवन की ओर बढ़ेंगे। यह फैसला संयुक्त किसान मोर्चा की 9 सदस्यीय कमेटी की बैठक में हुआ है। बता दें कि मंगलवार को सोनीपत के कुंडली बॉर्डर पर संयुक्त किसाना मोर्चा की बैठक में यह निर्णय लिया गया कि 26 नवंबर को किसान आंदोलन की संख्या में इजाफा किया जाएगा।

इसके बाद 29 नवंबर को गाजीपुर और टिकरी बॉर्डर से 500-500 किसानों का ग्रुप संसद की ओर कूच करेगा। इस बीच बैठक में यह भी तय हुआ कि किसानों को जहां भी रास्ता रोका जाएगा किसान वहीं बैठ कर आदोलन की अगुवाई करेंगे। 26 नवंबर को आंदोलनरत किसानों को एक साल पूरा होने जा रहा है। वहीं 29 नवंबर से संसद का शीतकालीन सत्र भी शुरू होने की संभावना है। ऐसे में किसानों का यह आंदोलन फिर दिल्ली की संड़को को जाम करने की तैयारी में है।

गुरनाम सिंह चढूनी फिर नाराज

किसान नेता जगजीत सिंह डल्लेवाल ने बैठक की जानकारी देते हुए बताया कि 29 नवंबर को गाजीपुर और टिकरी बॉर्डर से ट्रेक्टरों के साथ किसान मोर्चा निकालेंगे। किसानों को जहां भी रोकने की कोशिश की जाएगी, किसान वहीं बैठ कर आंदोलन करेंगे। इस बीच किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी नाराज होकर बैठक से निकले। उन्होंने मीडिया से भी कोई बातचीत नहीं की। इस बीच भारतीय किसान यूनियन (चढूनी ग्रुप) के लोगों ने संयुक्त मोर्चा के जमकर नारेबाजी की। 
 

खबरें और भी हैं...