दैनिक भास्कर हिंदी: बाल-बाल बची हैदराबाद की यह महिला

October 15th, 2020

हाईलाइट

  • बाल-बाल बची हैदराबाद की यह महिला

हैदराबाद, 15 अक्टूबर (आईएएनएस)। पुराने हैदराबाद शहर के प्रसिद्ध अकन्ना मदन्ना मंदिर का जर्जर ढांचा ढहने से उसकी चपेट में आने से एक महिला बाल-बाल बच गई।

सीसीटीवी पर महिला के बचने की घटना कैद हो गई और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

पुलिस के अनुसार, इस घटना में किसी की मौत नहीं हुई, न ही कोई घायल हुआ है।

बुधवार शाम को रिकॉर्ड हुए इस वीडियो में एक बुर्का पहने महिला को मंदिर के सामने से हड़बड़ी में निकलते हुए देखा जा सकता है। जैसे ही वह पुराने ढांचे से गुजरी, वह अचानक ढह गया। वह तेजी से आगे बढ़ी और सिर्फ एक सेकंड से वह बच गई।

वहीं विपरीत दिशा से एक दोपहिया वाहन पर आ रहा शख्स बचकर निकल गया। मलबा जैसे ही सड़क पर गिरा, पूरे क्षेत्र में धूल के गुब्बार छा गए।

सड़क पर यातायात कम होने के कारण एक बड़ी त्रासदी टल गई। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि हालांकि यह एक व्यस्त सड़क है, लेकिन खराब मौसम होने के कारण कम ही वाहन थे।

मंगलवार रात को हुई भारी बारिश ने हैदराबाद और आसपास के इलाकों में भीषण बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न कर दी है, जिससे 19 लोगों की जान चली गई। इनमें से नौ बंदलागुड़ा में एक घर के ढहने से मारे गए थे।

पुराने शहर में तीन दिनों में घर गिरने की यह दूसरी घटना थी। इससे पहले रविवार को हुसैनी आलम में एक पुराने घर के गिरने से दो लोगों की मौत हो गई।

घटनाओं पर गंभीरता से ध्यान देते हुए, नगरपालिका प्रशासन और शहरी विकास मंत्री के टी रामाराव ने ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) के अधिकारियों को जर्जर इमारतों की पहचान करने और उन्हें खाली करने के लिए कहा है।

उन्होंने अधिकारियों से ऐसी इमारतों को खाली कराने के लिए कहा, साथ ही यह भी कहा कि यदि आवश्यक हो, तो बल का उपयोग करें।

उनके निर्देश के बाद, अधिकारियों ने बुधवार को 14 जीर्ण-शीर्ण इमारतों को खाली करा दिया।

जीएचएमसी ने शहर भर में 286 जर्जर इमारतों की पहचान की है और निवासियों को उन्हें खाली करने के लिए नोटिस दिए हैं।

एमएनएस/एसजीके

खबरें और भी हैं...