comScore

मप्र में पिछड़ों को रिझाएंगे उमा और प्रहलाद

October 14th, 2020 18:00 IST
 मप्र में पिछड़ों को रिझाएंगे उमा और प्रहलाद

हाईलाइट

  • मप्र में पिछड़ों को रिझाएंगे उमा और प्रहलाद

भोपाल 14 अक्टूबर (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश के विधानसभा के उप-चुनाव में भाजपा अपने हर नेता का बेहतर उपयोग करना चाहती है, यही कारण है कि उसने अब पिछड़े वर्ग के मतदाताओं को रिझाने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती और केंद्रीय राज्य मंत्री प्रहलाद पटेल को खास इलाकों में प्रचार करने की जिम्मेदारी सौंपने का मन बनाया है।

मध्य प्रदेश में 28 विधानसभा क्षेत्रों में उप चुनाव होने वाले हैं, इनमें कई सीटें ऐसी हैं, जहां 25 फीसदी या उससे अधिक मतदाता पिछड़े वर्ग के हैं। इतना ही नहीं बुंदेलखंड की बड़ा मलहरा और ग्वालियर चंबल-अंचल करैरा, मुंगावली, बमौरी, मेहगांव सहित आधा दर्जन से अधिक सीटें ऐसी हैं जहां लोधी मतदाताओं की संख्या चुनावी नतीजों को प्रभावित करने वाली है।

उमा भारती और केंद्रीय राज्यमंत्री प्रहलाद पटेल लोधी वर्ग से आते हैं और गहरी पैठ भी है। यही कारण है कि भाजपा ने प्रदेश के अन्य बड़े नेताओं के साथ उमा भारती और प्रहलाद पटेल को भी प्रचार की कमान सौंपने की तैयारी कर ली है, इन दोनों नेताओं के भाजपा की स्टार प्रचारक सूची में भी नाम है।

पार्टी के सूत्रों का कहना है कि इन दोनों नेताओं का उन इलाकों में ज्यादा दौरा और सभाएं कराई जाएंगी, जहां लोधी मतदाता अधिक हैं।

राजनीतिक जानकार रवींद्र व्यास का मानना है कि, चुनाव में हर राजनीतिक दल जनाधार वाले नेता का उपयोग करते हैं, बुंदेलखंड और ग्वालियर-चंबल इलाके में उमा भारती और प्रहलाद पटेल का प्रभाव है, उनकी पिछड़े वर्ग में खासी पैठ है, इसके साथ ही इनके कद का पिछड़े वर्ग में अन्य कोई नेता नहीं है, इनकी सक्रियता भाजपा के लिए फायदेमंद भी हो सकती है। बड़ा मलहरा सीट वह है जहां से उमा भारती प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं।

एसएनपी/एएनएम

कमेंट करें
gnZDH