दैनिक भास्कर हिंदी: बलूचिस्तान में हिंसक प्रदर्शन, पत्थरबाजी के बीच सेना चौकी छोड़कर भागी

June 11th, 2020

हाईलाइट

  • बलूचिस्तान में हिंसक प्रदर्शन, पत्थरबाजी के बीच सेना चौकी छोड़कर भागी

नई दिल्ली/इस्लामाबाद, 11 जून (आईएएनएस)। पाकिस्तान में बलूचिस्तान के बाराबचा इलाके में बुधवार को हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारियों ने हिंसक विरोध प्रदर्शन में पथराव शुरू कर दिया, जिसके बाद पाकिस्तान सीमा बल के सैनिक चौकी छोड़कर भाग गए।

बलूचिस्तान पोस्ट रिपोर्ट के अनुसार, हजारों प्रदर्शनकारियों ने बुधवार को पाकिस्तानी सुरक्षा बलों पर पथराव किया, जिससे उन्हें अपनी सीमा चौकियों से भागने को मजबूर होना पड़ा। विरोध प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों ने सैन्य इमारतों को नष्ट कर दिया।

बलूचिस्तान में सत्ताधारी पार्टी से जुड़े सदस्यों द्वारा कथित रूप से एक युवती की हत्या के मामले के कारण बलूच के लोगों में पिछले सप्ताह से काफी गुस्सा था।

मलिकनाज की मौत हो गई थी और उसकी चार साल की बच्ची ब्राम्श की दो हफ्ते पहले बलूचिस्तान के तुर्बत शहर के दन्नोक तहसील में गोली मारकर हत्या कर दी गई। बलूचिस्तान की सत्ताधारी पार्टी, बलूचिस्तान अवामी पार्टी (बीएपी) के सदस्यों द्वारा कथित तौर पर हमला करने का आरोप है।

बलूचिस्तान अवामी पार्टी (बीएपी) पार्टी की स्थापना 2018 में पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एन) और पाकिस्तान मुस्लिम लीग (क्यू) के कुछ सदस्यों द्वारा की गई है। बीएपी पाकिस्तान में 2018 के आम चुनावों में बलूचिस्तान में 19 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। बीएपी, मुख्यमंत्री जाम कमाल खान के साथ सूबे में गठबंधन सरकार में प्रमुख भूमिका में है और पाकिस्तान नेशनल असेंबली में प्रधान मंत्री इमरान खान की अध्यक्षता वाले सत्ताधारी गठबंधन का एक हिस्सा भी है।

इस घटना से पाकिस्तान के अन्य हिस्सों में भी बलूच के लोगों में काफी गुस्सा है।