• Dainik Bhaskar Hindi
  • National
  • War is going on in Ukraine and Russia, while on the other hand a country is also using drones to support terrorists.

सीमा पर पाकिस्तान के नापाक मंसूबे: यूक्रेन और रूस युद्ध के बीच पाकिस्तान ने फिर दिया घिनौनी हरकत को अंजाम, कश्मीर सीमा के भीतर ड्रोन से गिराए कैमिकल

February 26th, 2022

हाईलाइट

  • हाल ही में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री रूस की यात्रा पर गए थे

डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। यूक्रेन और रूस के मध्य हो रहा विवाद अब युद्ध में बदल चुका है। रूस की सेना यूक्रेन की राजधानी कीव पर पंहुच चुकी है। वहीं एक देश ऐसा है कि जो अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। ये देश है पाकिस्तान। कई बार भारत से मुंह की खाने के बाद भी यह देश सुधरने का नाम लेता नजर नहीं आ रहा। ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि पाकिस्तानी ड्रोन सी सीमा के पास फिर हलचल मचाई है। यहीं नहीं ड्रोन के सहारे पहली बार लिक्विड केमिकल का भी इस्तेमाल किया गया है।

जम्मू-कश्मीर में शांति भंग करने के इरादे से पाकिस्तान कुछ न कुछ हरकतें करते ही रहता है। जानकारी के मुताबिक बुधवार को इस इलाके में ग्रेनेड, आईईडी, पिस्तौल और गोला-बारूद गिराए गए। जम्मू काश्मीर के डीजीपी ने कहा, "पाकिस्तान यहां लंबे समय से कायम शांति भंग करना चाहते हैं। हम इसका विश्लेषण कर रहे हैं कि यह क्या है, इसका क्या उपयोग है और इससे क्या नुकसान हो सकता है।"

 पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह ने आगे कहा कि, "बुधवार को एक पाकिस्तानी ड्रोन ने जम्मू-कश्मीर में ग्रेनेड, आईईडी, पिस्तौल, गोला-बारूद गिराया। साथ ही पहली बार तरल रूप में एक रसायन का खेप भी साथ भेजा।"

उन्होंने कहा, "पिछले दो सालों में  एक नई चुनौती का सामना कर रहे हैं। नशीले पदार्थ के साथ ही हथियार भी कश्मीर में भेजे जा रहे हैं ताकि नशीले पदार्थों की बिक्री से मिलने वाली आय का  आतंकवाद को मदद करने के लिए उपयोग किया जा सके। पाकिस्तान साजिश करता रहेगा, लेकिन हमारे जवाबी उपाय भी मौजूद हैं।" 

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि  "पिछले साल कुल 182 आतंकवादी मारे गए थे और 300 से ज्यादा  हथियार जब्त किए गए थे। जिससे यह स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहा है कि पाकिस्तान अधिक से अधिक आतंकवादी तैयार करने के लिए  हथियार भेज रहा है लेकिन हम इसे सफल नहीं होने दे रहे हैं।"

हाल ही में उड़वा चुके है मजाक 

हाल ही में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री रूस की यात्रा पर गए थे, वह भी तब जब रूस ने यूक्रेन पर हमला कर दिया था। इस युद्ध को लेकर दिए गए बयान पर इमरान खान की दुनिया भर में निंदा हुई थी। इमरान को रूस में यह कहते सुनी गया था कि "मेरे आने का क्या वक्त है,कितना उत्साह है"   

 

 

खबरें और भी हैं...