दैनिक भास्कर हिंदी: मोदी पिछड़ी जाति से होते तो क्या संघ उन्हें पीएम बनने देता : मायावती

May 11th, 2019

हाईलाइट

  • बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जाति को लेकर फिर एक बार बयान दिया है
  • मायावती ने कहा कि मोदी खुद को पिछड़ा बताकर राजनीतिक स्वार्थ के लिए ऐसी बयानबाजी करते हैं
  • मायावती ने कहा- अगर जन्म से पिछड़े होते तो क्या आरएसएस उन्हें कभी भी पीएम बनने देती?

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के बीच जात पात को लेकर की जा रही सियासी बयानबाजी थमने का नाम नहीं ले रही है। बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जाति को लेकर फिर एक बार बयान दिया है। मायावती ने उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम कल्याण सिंह का जिक्र करते हुए ट्वीट किया कि अगर मोदी पिछड़ी जाति से होते तो उन्हें संघ कभी भी प्रधानमंत्री नहीं बनने देता। 

मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए लिखा कि पीएम श्री मोदी ने अब और कुछ नहीं तो गठबंधन पर जातिवादी होने का जो आरोप लगाया है वह हास्यास्पद व अपरिपक्व है। जातिवाद के अभिशाप से पीड़ित लोग जातिवादी कैसे हो सकते हैं? श्री मोदी जन्म से ओबीसी नहीं हैं इसीलिए उन्होंने जातिवाद का दंश नहीं झेला है और ऐसी मिथ्या बातें करते हैं।

इसके साथ ही मायावती ने एक बार फिर मोदी पर जात पात की सियासत करने का आरोप लगाया। मायावती ने कहा कि मोदी खुद को पिछड़ा बताकर राजनीतिक स्वार्थ के लिए ऐसी बयानबाजी करते हैं। मायावती ने ट्वीट किया कि श्री मोदी अपने को जबर्दस्ती पिछड़ा बनाकर जातिवाद का खुलकर राजनीतिक स्वार्थ के लिए इस्तेमाल करते हैं। वे अगर जन्म से पिछड़े होते तो क्या आरएसएस उन्हें कभी भी पीएम बनने देती? वैसे भी श्री कल्याण सिंह जैसों का आरएसएस ने क्या बुरा हाल किया है यह देश क्या नही देख रहा है।

बता दें कि पीएम मोदी और मायावती के बीच जात पात को लेकर की जा रही बयानबाजी काफी समय से जारी है। इससे पहले भी मायावती पीएम पर स्वार्थ के लिए जाति की राजनीति करने का आरोप लगा चुकी हैं।