दैनिक भास्कर हिंदी: Coronavirus Outbreak: संसद 3 अप्रैल तक चलेगी या नहीं? दुष्यंत सिंह की रिपोर्ट पर टिकी निगाहें

March 20th, 2020

हाईलाइट

  • संसद भवन में कई सांसदों के साथ दुष्यंत सिंह के उठने-बैठने से हड़कंप
  • कोरोनावायरस की शिकार हुईं बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर की पार्टी में पहुंचे थे दुष्यंत
  • संसद के मौजूदा सत्र को स्थगित करने की हो रही मांग

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कोरोनावायरस की शिकार हुईं बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर की पार्टी में शिरकत करने के बाद संसद भवन में कई सांसदों के साथ दुष्यंत सिंह के उठने-बैठने से हड़कंप मचा है। उनके संपर्क में आने के कारण अनुप्रिया पटेल, संजय सिंह, डेरेक ओब्रायन सहित करीब आधे दर्जन सांसद सेल्फ आइसोलेशन में जा चुके हैं। खुद दुष्यंत भी अब आइसोलेशन में हैं। ऐसे हालात में अब संसद के मौजूदा सत्र को स्थगित करने की मांग उठने लगी है। यह मांग उठाने वालों में तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओब्रायन सबसे आगे हैं।

अगर रिपोर्ट निगेटिव तो तीन अप्रैल तक चल सकता है संसद सत्र
सूत्रों का कहना है कि मां वसुंधरा राजे के साथ लखनऊ के होटल ताज में एक पार्टी के दौरान कनिका के संपर्क में आए सांसद दुष्यंत सिंह की कोरोना जांच की रिपोर्ट पर ही संसद सत्र का चलना निर्भर करेगा। अगर रिपोर्ट निगेटिव आती है तो फिर संसद सत्र निर्धारित तीन अप्रैल तक चल सकती है, नहीं तो सत्र को समय से पहले खत्म किया जा सकता है, क्योंकि सांसदों को जाने-अनजाने में इसकी चपेट में आने का खतरा दिख रहा है।

कनिका की पार्टी में शामिल हुए थे दुष्यंत सिंह
दरअसल, लखनऊ में 15 मार्च को कनिका कपूर की पार्टी में राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और दुष्यंत सिंह शामिल हुए थे। शुक्रवार को कनिका कपूर के कोरोना पॉजिटिव होने की रिपोर्ट आने के बाद से वसुंधरा और दुष्यंत स्व-एकांतवास (सेल्फ आइसोलेशन) में चले गए हैं। खास बात यह कि 15 मार्च की इस पार्टी में शिरकत करने के अगले दिन 16 मार्च को दुष्यंत सिंह संसद भवन पहुंचे थे और उन्होंने कार्यवाही में हिस्सा लिया था।

96 सांसदों में मचा हड़कंप
वहीं 18 मार्च की सुबह राष्ट्रपति भवन में आयोजित ब्रेकफास्ट पार्टी में वह उत्तर प्रदेश और राजस्थान के कुल 96 सांसदों के साथ हिस्सा लिए थे। दुष्यंत के कनिका कपूर की पार्टी में जाने और फिर एहतियातन आइसोलेशन में चले जाने के बाद 96 सांसदों में हड़कंप मचा है। दुष्यंत ने संसद में स्टैंडिंग कमेटी की मीटिंग में हिस्सा लेने के साथ कई अन्य सांसदों के साथ भी मेलमिलाप किया था। ऐसे में संपर्क में आए सांसदों को डर है कि कहीं कनिका की वजह से दुष्यंत संक्रमित हुए तो फिर वह भी चपेट में आ सकते हैं। ऐसे सांसद कोरोना का टेस्ट कराने की तैयारी कर रहे हैं।

सांसदों का सता रहा डर
सूत्रों का कहना है कि दुष्यंत सिंह की जांच रिपोर्ट आने के बाद ही संदेह के घेरे में आए सांसदों को राहत मिल सकेगी। अगर दुष्यंत की रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो फिर संसद सत्र को स्थगित किया जा सकता है। जिस तरह से कोरोना पॉजिटिव महिला की पार्टी से लौटे दुष्यंत सिंह संसद परिसर में तमाम लोगों के संपर्क में आए, उससे सांसद डरने लगे हैं। उन्हें लग रहा है कि संसद आना अब खतरे से खाली नहीं है।