comScore

गांधी परिवार की SPG हटाए जाने के खिलाफ युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन

गांधी परिवार की SPG हटाए जाने के खिलाफ युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन

हाईलाइट

  • गांधी परिवार की एसपीजी सुरक्षा हटाए जाने का विरोध यूथ कांग्रेस ने किया प्रदर्शन
  • कार्यकर्ता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के पुतले भी जलाए

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। गांधी परिवार की एसपीजी सुरक्षा हटाए जाने के खिलाफ आज (बुधवार) को भारतीय राष्ट्रीय युवा कांग्रेस ने दिल्ली में प्रदर्शन किया। इस दौरान संसद के ठीक बगल में स्थित शास्त्री भवन के पास अफरा-तफरी की स्थिति पैदा हो गई। प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के पुतले भी जलाए और बैरिकेड्स तोड़कर वे आगे बढ़ गए, जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने उन्हें हिरासत में लिया।

प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि केंद्र सरकार गांधी परिवार की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ कर रही है। बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, प्रियंका और राहुल गांधी को मिली एसपीजी सुरक्षा को वापस ले लिया है। युवा कांग्रेस के प्रवक्ता अमरीश पांडेय ने कहा, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी की एसपीजी सुरक्षा हटाने की भाजपा सरकार की घिनौनी और शर्मनाक हरकत की है।  

मंगलवार को संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान लोकसभा में भी कांग्रेस और द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) के सदस्यों ने गांधी परिवार और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की एसपीजी सुरक्षा वापस लिए जाने के मुद्दे पर सरकार पर सुरक्षा के नाम पर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए सदन से बहिर्गमन किया। 

शून्यकाल में मुद्दे पर चर्चा करने की दोनों दलों की मांग लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला द्वारा अस्वीकार किए जाने के बाद सदस्यों ने सदन से बहिर्गमन कर दिया। मना करने के बावजूद वे सदन में लगभग एक घंटे तक विरोध प्रदर्शन करते रहे , जिससे सदन की कार्यवाही बाधित रही।

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, उनके बच्चों -राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा की सुरक्षा को खतरा बताते हुए प्रश्नकाल में यह मुद्दा उठाया, लेकिन लोकसभा अध्यक्ष ने उन्हें बोलने की अनुमति नहीं दी।
 

कमेंट करें
kQUjp