comScore
Dainik Bhaskar Hindi

Oh no! एकु फोजिया बीमारी से पीड़ित महिला के पेट से निकली सेफ्टी पिन, चूड़ियां

BhaskarHindi.com | Last Modified - November 15th, 2018 10:57 IST

1.9k
0
0

डिजिटल डेस्क। आपने कई ऐसे किस्से सुने होंगे जिसमें डॉक्टरों ने घंटों ऑपरेशन कर मरीज के पेट से कभी बाल, कभी कील तो कभी चाकू निकाला है। ऐसा ही एक वाकया आज हम आपको बताने जा रहे हैं, जिसमें डॉक्टरों ने एक मानसिक रूप से बीमार महिला के पेट से सेफ्टी पिन, चूड़ियां, कीलें और मंगलसूत्र तक निकाला। आपको जानकर हैरानी होगी कि महिला ने जो मंगलसूत्र  निगला था उसका वजन लगभग डेढ़ किलो था। 

एक सीनियर डॉक्टर ने मंगलवार को ये जानकारी दी। डॉक्टर ने बताया कि करीब 45 साल की महिला संगीता ‘एकु फेजिया’ नाम की एक दुर्लभ विकृति से ग्रस्त है जिसकी वजह से व्यक्ति धातु की चीजों को खाने लगता है। अस्पताल के एक अन्य डॉक्टर ने बताया कि करीब दो घंटे तक चले ऑपरेशन के बाद महिला के पेट से लोहे की कीलें, नट-बोल्ट, सेफ्टी पिन, यू-पिन, बालों में लगाने वाली पिन, कंगन, चूड़ियां, चेन, मंगलसूत्र समेत कई दूसरी चीजें भी निकाली गईं। बता दें कि एक सरकारी मानसिक चिकित्सालय से महिला को यहां लाया गया था। सड़कों पर बेसुध घूमती मिलने के बाद महिला को मानसिक चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था।

डॉक्टर परमार ने कहा, ‘उसने पेट में दर्द की शिकायत की थी। उसका पेट पत्थर की तरह कठोर था। एक्स-रे से खुलासा हुआ की उसके पेट में कई बाहरी चीजें हैं। सेफ्टी पिन उसके फेफड़ों में धंसी थीं और उसके पेट में भी इनसे छेद हो गया था।' डॉक्टरों के मुताबिक एकुफेगिया बीमारी से ग्रसित व्यक्ति लोहा और धातु से बनी वस्तुओं को निगल जाता है। कोई भी वस्तु नुकीली हो या फिर न पचने वाली, बिना किसी परवाह के शख्स ऐसी चीजों को निगल लेता है। यह बीमारी आमतौर पर मानसिक रूप से विक्षिप्त व्यक्तिओं में पाई जाती है, जिन्हें खाने की वस्तुओं की सोच-समझ नहीं रहती। साल में ऐसी बीमारी के एक-दो केस ही आते हैं।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें