comScore
Dainik Bhaskar Hindi

महाराष्ट्र का शेतफल गांव, जहां हर घर में पाले जाते हैं जहरीले सांप

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 02nd, 2019 21:14 IST

5.4k
1
0
महाराष्ट्र का शेतफल गांव, जहां हर घर में पाले जाते हैं जहरीले सांप

डिजिटल डेस्क, महाराष्ट्र। हम में से कई सारे ऐसे लोग होते हैं जो जानवर पालने के शौकीन होते हैं। कुत्ते, बिल्ली, तोते पालना तो आम बात है लेकिन कभी क्या ये सुना है कि लोग घरों में सांप भी पालते हैं। जी हां बात जरुर चौकाने वाली है मगर है बिल्कुल सही। आज हम आपको एक ऐसी ही जगह के बारे में बताने जा रहें हैं, जहां सांप की पूजा नहीं बल्कि उनको घरों में पाला जाता है।

दुनिया में भारत ही ऐसा देश है जहां कई जानवरों की पूजा की जाती है। इनमें से सांप भी एक है। आमतौर पर आपने भारत में लोगों को सांप को भगवान शिव का रूप मान उसकी पूजा करते देखा होगा लेकिन पालते हुए कभी नहीं देखा होगा। तो आज जानिए हमारे साथ एक ऐसी ही जगह के बारे में। 

महाराष्ट्र के सोलापुर जिला के एक गांव में लोग जहरीले कोबरा सांप के साथ दोस्तों की तरह रहते हैं। इस गांव के लोग हर घर में कम से कम एक कोबरा जरुर पालते हैं और हैरानी की बात तो यह है कि यहां लोग सांपों की भी बिलकुल कुत्ते- बिल्ली की तरह ही देखभाल करते हैं।

 यहां पर ये सांप किसी को भी किसी भी प्रकार की कोई हानि नहीं पहुंचाते हैं। कहा जाता है कि आजतक यहां पर किसी को भी सांप ने नहीं काटा। हर साल इस अनोखे गांव को देखने के लिए यहां हजारों की संख्या में लोग आते हैं। इस गांव का नाम शेतफल है। जहां लोग सांपों की पूजा करते हैं। बता दें कि इस गांव में सांपों के कई मंदिर भी बने हुए है।

इस गांव में स्कूल, कॉलेज के अलावा पब्लिक प्लेस पर भी सांप घूमते दिखाई देना बिलकुल आम बात है। यहीं नहीं इस गांव के छोटे बच्चे भी सांपों के साथ खेलते हैं। शेतफल गांव में मकान पक्का हो या कच्चा, हर घर में सांपों के रहने के लिए जगह बनाई जाती है। यहां अधिकतर घर कच्चे हैं, लेकिन घरों की छत पर छेद में सांपों के बैठने के लिए जगह होती है, या ये कहे कि बनाई जाती है तो कोई बड़ीं बात नहीं होगी। शेतफल गांव वालों के कहे अनुसार ऐसा माना जाता है कि यही वजह है जो यहां सांप किसी को काटता नहीं है और यहां के लोग सांप को मारते भी नहीं हैं। 


 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download