comScore

राम रहीम के समर्थकों ने ट्रेन में लगाई थी आग, अब गिरफ्तार

December 20th, 2017 18:33 IST
राम रहीम के समर्थकों ने ट्रेन में लगाई थी आग, अब गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली।  रेलवे प्रॉटेक्शन फोर्स और दिल्ली पुलिस की स्पेशल ब्रांच ने डेरा सच्चा सौदा के 4 मेम्बेर्स को अरेस्ट किया है। इन पर डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को रेप मामले में दोषी करार दिए जाने के बाद  आनंद विहार स्टेशन यार्ड में ट्रेन के 2 कोच में आग लगाने के आरोप है।

इनके खिलाफ सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का मामला दर्ज किया गया था। इन चारों ने स्वीकारा है कि ये डेरा सच्चा सौदा के सदस्य हैं और उन्होंने आनंद विहार यार्ड पर दो कोचों में आग लगाई थी।

बता दें कि 19 दिसंबर को खुफिया सूचना के आधार पर राम रहीम के चार समर्थकों कन्हैया लाल मित्तल, विजय मलिक, बीर सिंह और हरजीत सिंह को पकड़ा गया। विशेष शाखा इन्हें आज दिल्ली की एक अदालत में पेश करेगी। 28 अगस्त को इन्होंने आनंद विहार स्टेशन के नजदीक रेल के दो कोच में आग लगा दी थी। मौके पर ज्वलनशील पदार्थ से भरी एक बोतल भी बरामद हुई थी। 

बता दें कि राम रहीम साध्वी के साथ रेप केस में 20 साल की सजा काट रहा है। उसे रोहतक की सुनारिया जेल में रखा गया है। 25 अगस्त को कोर्ट ने राम रहीम को  दोषी माना था। कोर्ट ने उस पर 30 लाख जुर्माना भी लगाया था। 28 अगस्त को उसे जेल भेजा गया। 

दो युवतियों के रेप के मामलें में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की हकीकत सामने लाने और उसे सजा दिलाने में सीबीआई के दो जांबाज अफसरों ने अहम भूमिका निभाई थी। उनके नाम हैं सतीश डागर और तत्कालीन डीआईजी मुलिंजा नारायणन। इन दोनों अधिकारियों ने युवतियों को न्याय दिलाने के लिए न केवल अपने उच्च अधिकारियों के दबाव झेले, बल्कि अपनी जान दाव पर लगाकर पुरे मामलें की निष्पक्ष जांच की थी।

'पूरा सच' नाम का अखबार निकालने वाले पत्रकार रामचंदर छत्रपति ने युवतियों पर हुए रेप को उजागर किया था। छत्रपति ने डेरे का पूरा सच और एक गुमनाम पत्र अपने अखबार में छापा था, जिसमें साध्वियों के साथ रेप की बात लिखी गई थी। खबर छपने के कुछ दिन बाद ही छत्रपति पर हमला हुआ जिसमे उनकी मौत हो गई।

कमेंट करें
rHmov