comScore
Dainik Bhaskar Hindi

अफ्रीका में यहां बसे हैं चुड़ैलों के गांव, जानकर हैरान हो जाएंगे आप

BhaskarHindi.com | Last Modified - November 28th, 2017 12:38 IST

762
0
0

डिजिटल डेस्क, घाना। आपने अब तक जितने भी गांव, रहस्यमयी स्थानों या मंदिरों के बारे में सुना होगा, उनमें ये सबसे अलग है। दुनिया की अनोखी जनजातियों में शुमार अफ्रीका की जनजातियां अपनी बेहद अलग और भयानक परंपराओं के लिए जानी जाती हैं। अफ्रीका में ही घाना के ऐसे 6 गांव हैं जिन्हें चुड़ैलों के गांव के नाम से जाना जाता है। यहां जितनी भी महिलाएं रहती हैं, उन्हें चुड़ैल या डायन माना जाता है। इन्हें समाज से बहिष्कृत कर दिया गया है। यहां ये महिलाएं झोपड़ियां बनाकर रहती हैं और आसपास बने खेतों में काम कर किसी तरह गुजर-बसर करती हैं। 

पूरी दुनिया में चर्चा का विषय

हापूरी दुनिया में चर्चा का विषयल ही में म्यूनिख की फोटोग्राफर एन क्रिस्टिने वोएहर्ल ने इनके फोटोज क्लिक किए, जिसके बाद ये गांव दुनिया के सामने आए और यहां मौजूद महिलाएं जिन्हें चुड़ैल माना जाता है कि हालत भी लोगों ने नजदीक से देखी। इसके बाद अब इन गांव पूरी दुनिया में चर्चा का विषय हैं। 

महिलाओं की संख्या करीब 1500 के आसपास

अंधविश्वास से ग्रसित इन गांवों में महिलाओं को चुड़ैल मानने का कारण इनकी ऐसी गलतियां हैं जिन पर आमतौर पर विश्वास करना भी मुश्किल है। इन्हीं की वजह से इन्हें चुड़ैल मानकर गांव से बाहर चुड़ैल गांव में भेज दिया जाता है। ऐसे गांव में रहने वाली इन महिलाओं की संख्या करीब 1500 के आसपास है। ये समाज से अलग तो रहती ही हैं साथ ही कभी भी अपने परिवार के किसी भी सदस्य से संपर्क नहीं कर सकतीं। फिर चाहे वे उनके छोटे मासूम बच्चे ही क्यों ना हों। 

गांबागा और गुशीगू गांव इनमें प्रमुख

कई बार किसी को सांप ने काट लिया या कोई दूसरा व्यक्ति डूबकर मर गया तो भी उससे जुड़ी किसी न किसी महिला को चुड़ैल घोषित कर दिया जाता है। गांबागा और गुशीगू गांव इनमें प्रमुख हैं। जहां महिलाओं की संख्या ज्यादा है। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर