comScore

बारिश का कहर: यूपी में अब तक 44 की मौत, बिहार के 15 जिलों में रेड अलर्ट, स्कूल बंद

बारिश का कहर: यूपी में अब तक 44 की मौत, बिहार के 15 जिलों में रेड अलर्ट, स्कूल बंद

हाईलाइट

  • उत्तर प्रदेश के ज्यादातर इलाकों में आफत की बारिश शनिवार को भी जारी है
  • बीते 24 घंटे से हो रही भारी बारिश के चलते कम से कम 44 लोगों की मौत हो चुकी है

डिजिटल डेस्क, लखनऊ/पटना। उत्तर प्रदेश और बिहार में बारिश का कहर जारी है। उत्तर प्रदेश के ज्यादातर इलाकों में लगातार हो रही आफत की बारिश आज शनिवार को भी जारी है। राज्य के अलग-अलग हिस्सों में बीते 24 घंटे से हो रही भारी बारिश के चलते कम से कम 44 लोगों की मौत हो चुकी है। लगातार बारिश को देखते हुए प्रशासन ने आज भी सभी स्कूलों में अवकाश घोषित कर दिया है। वहीं बिहार के करीब 15 जिलों में भारी बारिश की संभावने के चलते रेज अलर्ट जारी किया गया है। स्कूलों में भी छुट्टी का ऐलान किया गया है। 

भारी बारिश के कारण यूपी के विभिन्न जिलों में जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी मंडलायुक्तों और जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि वो प्रभावित लोगों तक तत्काल राहत पहुंचाएं। राजधानी लखनऊ सहित प्रदेश के विभिन्न जिलों में जिला प्रशासन ने भारी बारिश के मद्देनजर स्कूलों को शनिवार को बंद रखने के आदेश दिए हैं।

शुक्रवार को सीएम योगी आदित्यनाथ के संबंधित अधिकारियों को क्षेत्र में रहकर बचाव और राहत कार्य पर नजर रखने का निर्देश दिया। साथ ही मृतकों के परिवारवालों को 4 लाख रुपये मुआवजे का भी ऐलान किया। यूपी के राहत कमिश्नर जीएस प्रियदर्शी का कहना है, हमने सभी कलेक्टरों को मौसम के बारे में पूर्वानुमान और चेतावनी जारी की है। आज पूर्वी यूपी के इलाकों में भारी बारिश का अनुमान है, पश्चिमी यूपी में कम बारिश होगी। गाजीपुर और बलिया में गंगा और गोंडा में एक नदी खतरे के निशान से ऊपर है।

यूपी के कई जिलों में बारिश ने कहर बरपाया। मीर्जापुर में घंटाघर में कच्चा मकान गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई। सुलतानपुर में कच्ची दीवार गिरने से एक मासूम की जान चली गई। बलिया में भी अलग-अलग हादसों में दो लोगों की मौत हो गई। शुक्रवार को मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक चंदौली में 3, अमेठी और भदोही में 2-2 लोग और वाराणसी व अयोध्या में भारिश बारिश से एक-एक लोगों की बारिश के कारण हुए हादसों में मौत हुई है।

आंबेडकरनगर में पिछले तीन दिनों से हो रही भारी बारिश से बुरा हाल है। मकान गिरने की घटनाओं में पांच लोगों की मौत हो चुकी है। शनिवार को राजेसुल्तानपुर थाना इलाके के बांसगांव में एक मकान गिरने से पिता-पुत्री की मौत हो गई, जबकि इसी इलाके के तरौना गांव में मकान गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। शुक्रवार को भी दो लोगों की मकान ढहने से मौत हो गई थी।

भारी बारिश के बाद पटना में डाक बंगला चौराहे पर इस कदर पानी भर गया है कि वहां से गुजरने वाली गाड़ियो का कुछ हिस्सा पानी में डूबा रहता है। बिहार में बारिश के बाद नालंदा मेडिकल कॉलेज में पानी भर गया।

भारी बारिश के कारण बिहार में भी काफी नुकसान हुआ है। कई जगहों पर रेल और आवागमन की अन्य सुविधाएं बाधित हैं। गंगा-गंडक जैसी प्रमुख नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। सीएम नीतीश कुमार ने आपदा प्रबंधन विभाग को तैयार रहने के निर्देश दिए हैं। वहीं मौसम विभाग ने भी यूपी और बिहार में अगले दो दिन भारी बारिश की चेतावनी दी है। इसी क्रम में बिहार में 15 जिलों में रेड अलर्ट जारी किया गया है। बिहार सरकार ने अगले दो दिन तक सभी स्कूलों को बंद रखने का भी निर्देश दिया है।

कमेंट करें
opDvT