comScore

अब मोबाइल पर 30 सेकेंड और लैंडलाइन पर 1 मिनट तक बजेगी घंटी : TRAI

अब मोबाइल पर 30 सेकेंड और लैंडलाइन पर 1 मिनट तक बजेगी घंटी : TRAI

हाईलाइट

  • अब तक भारत में इनकमिंग कॉल में बजने वाली घंटी के लिए कोई सीमा नहीं थी
  • टेलीकॉम कंपनियां दूसरे नेटवर्क के यूजर्स को करती थी कॉल बैक करने के लिए मजबूर
  • जिओ ने TRAI से की पुराने ऑपरेटर्स को सजा देने की अपील

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI) ने आज (शुक्रवार) इनकमिंग कॉल की घंटी बजने की सीमा निर्धारित की है। अब मोबाइल पर आने वाले फोन कॉल के लिए 30 सेकेंड और लैंडलाइन पर 1 मिनट तक घंटी बजनी जरूरी होगी। मोबाइल फोन और लैंडलाइन सेवाओं की गुणवत्ता संबंधी प्रावधान में TRAI द्वारा किये गए संशोधन में कहा गया कि 'यदि इनकमिंग फोन कॉल का तुरंत जवाब नहीं दिया जाता है या उस फोन कॉल को काटा न जाए तो उसकी सूचना देने वाली फोन की घंटी, मोबाइल सेवाओं के लिये 30 सेकेंड और लैंडलाइन सेवाओं के लिये 60 सेकेंड यानी 1 मिनट तक होगी।'

अब तक भारत में इनकमिंग कॉल के लिए घंटी बजने को लेकर ऐसी कोई सीमा नहीं थी, लेकिन आज पहली बार TRAI ने यह तय किया है कि हमारे मोबाइल या लैंडलाइन में कितनी देर तक आने वाले कॉल की घंटी बजेगी। दरअसल कई टेलीकॉम कंपनियां कॉल कनेक्ट करने के शुल्क से होने वाली आय का लाभ उठाने के लिये खुद से ही इनकमिंग फोन की घंटी का समय कम कर रही थी। इससे यह टेलीकॉम कंपनियां, दूसरे नेटवर्क वाले उपभोक्ताओं से कॉल बैक कराने का षड्यंत्र रच रही थी। इस प्रकार से उन्हें काफी फायदा भी हो रहा था। इसके बाद इन कंपनियों ने एक-दूसरे पर मन मुताबिक घंटी का समय घटाने का आरोप भी लगाया था।

TRAI से जियो की अपील
रिलायंस जियो ने आइडिया, वोडाफोन और भारती एयरटेल जैसे कई पुराने ऑपरेटर्स पर गैर-कानूनी तरीके से लैंडलाइन नंबरों को मोबाइल फोन नंबरों के रूप में दिखाने का आरोप लगाया है। जियो के मुताबिक इन पुराने ऑपरेटर्स ने वायर-लाइन नंबरों के साथ छेड़छाड़ करके गलत तरीके से मुनाफा कमाया है। इसके साथ ही रिलायंस जियो ने TRAI से कानून तोड़ने और लाइसेंसिंग मानदंडों का उल्लंघन करने के लिए इन सभी ऑपरेटर्स को कड़ी से कड़ी सजा देने की अपील भी है। इस पर भारती एयरटेल ने पलटवार करते हुए कहा कि जियो, TRAI को गुमराह करने की कोशिश कर रहा है।

कमेंट करें
Pkic8