comScore

Madhuri's Birthday: मधुबाला से की जाती है तुलना, एक किसिंग सीन ने मचा दिया था तहलका


डिजिटल डेस्क, मुम्बई। बॉलीवुड की मोहिनी और धक धक गर्ल नाम से मशहूर माधुरी दीक्षित आज अपना 52 वां जन्मदिन मना रही हैं। 15 मई 1967 को मुम्बई में एक मराठी परिवार में जन्मी माधुरी दीक्षित पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित भी हैं। माधुरी ने अपने 31 साल के बॉलीवुड कॅरियर में कई सारे किरदार निभाए। उनके द्वारा निभाए गए इन्हीं किरदारों के चलते उन्हें बॉलीवुड क्वीन कहा जाता है। सिर्फ एक्टिंग ही नहीं बल्कि माधुरी की डांसिंग स्किल के भी लोग दीवाने हैं। अपनी इसी खूबी के चलते माधुरी ने सिने जगत में कई आइकोनिक किरदार निभाए हैं।

ये थी उनकी पहली फिल्म
माधुरी दीक्षित ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत साल 1984 में राजश्री प्रोडक्शन की फिल्म 'अबोध' से की थी।​ माधुरी ने ऐसा कभी नहीं सोचा था कि वे फिल्मों में एक्टिंग करेंगी। उन्होंने मुंबई के विले पार्ले के कॉलेज से पढ़ाई की है। उनके पास माइक्रोबायोलॉजी की डिग्री है।

एमएफ हुसैन ने माधुरी की दिवानगी के चलते किया था ये काम
दुनिया के मशहूर पेंटर एमएफ हुसैन माधुरी दीक्षित के बड़े फैन थे। उन्होंने माधुरी की फिल्म 'हम आपके है कौन' करीब 67 बार देखी थी। जब माधुरी ने 'आजा नचले' के साथ अपना कमबैक किया तो हुसैन ने पूरा थियेटर बुक कर लिया था। हाल ही में माधुरी अनिल कपूर के साथ 'टोटल धमाल' में और संजय दत्त के साथ 'कलंक' में नजर आई थीं।

किसिंग सीन के चलते मचा बवाल
फिल्म 'दयावान' जो 1988 में आई थी। इस फिल्म में वे अपने से 21 साल बड़े एक्टर विनोद खन्ना के साथ नजर आई थी। इस फिल्म में माधुरी और विनोद का एक ​किसिंग सीन था, जिसने उस वक्त काफी तहलका मचा दिया था। इस सीन की भी बहुत आलोचना हुई थी। इस सीन को लेकर बाद में माधुरी ने भी अफसोस जाहिर किया था। उन्होंने कहा था कि उन्हें यह सीन नहीं करना चाहिए था। 

संजय दत्त और अनिल कपूर के साथ जुड़ा था नाम
बॉलीवुड में हर एक्ट्रेस की तरह ही माधुरी का नाम भी कई एक्टर्स के साथ जोड़ा गया। उनका नाम संजय दत्त और अनिल कपूर के साथ जोड़ा गया। अनिल के साथ राम-लखन के दौरान तो संजय के साथ साजन फिल्म के समय माधुरी की नजदीकियां बढ़ीं। 90 के दशक में एक्टर संजय दत्त और माधुरी के प्यार के किस्से काफी चर्चा में थे लेकिन फिर 1993 में हुए बम ब्लास्ट केस में संजय दत्त का नाम आया था। इसके बाद माधुरी ने संजय से दूरी बना ली।

ऐसे बनीं धक-धक गर्ल
फिल्म 'बेटा' के लिए सबसे पहले श्रीदेवी को कास्ट किया गया था, लेकिन किन्हीं कारणों के चलते वे इस फिल्म का हिस्सा नहीं बन सकीं। इसके बाद यह रोल माधुरी को मिला और इस फिल्म ने उन्हें एक अलग पहचान दी। फिल्म में 'सरस्वती' के रोल ने रातों रात माधुरी दीक्षित को माधुरी से 'धक-धक गर्ल' बना दिया। इस फिल्म में शानदार अभिनय के लिए माधुरी को फिल्मफेयर बेस्ट एक्टर- फीमेल का अवार्ड दिया गया। यह फिल्म पांच फिल्मफेयर अवार्ड जीतने के साथ ही साल 1992 की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म बनी।

बिरजू महाराज कर चुके हैं कोरियोग्राफ
संजय लीला भंसाली की फिल्म 'देवदास' का गाना 'काहे छेड़ मोहे...' को बिरजू महाराज ने कोरियोग्राफ किया था।  बॉलीवुड में माधुरी ही एक ऐसी अदाकारा हैं, जिन्हें पंडित बिरजू महाराज ने कोरियोग्राफ किया था। इस गाने के लिए माधुरी दीक्षित ने जो भारी भरकम लंहगा पहना था उसकी कीमत 15 से 20 लाख के बीच थी।

कई एक्टर्स के साथ किया है काम
तेजाब, राम लखन, परिंदा, साजन, खलनायक, दिल, बेटा, हम आपके हैं कौन, दिल तो पागल है, लज्जा, पुकार, देवदास जैसी फिल्मों में माधुरी की अदाकारी ने सबका दिल जीत लिया। आमिर के साथ दिल, सलमान के साथ 'हम आपके हैं कौन', तो शाह रुख़ के साथ 'दिल तो पागल है' जैसी कामयाब फिल्में दे चुकीं माधुरी ने अपने समय के तमाम बड़े एक्टर्स के साथ काम किया है। आज भी न्यू जनरेशन के एक्टर्स रणवीर, रणबीर, कार्तिक आर्यन माधुरी के साथ काम करने की ख्वाहिश रखते हैं। 

मधुबाला से होती है तुलना
माधुरी की मुस्कान बहुत मोहक रही है, जिसके चलते उनकी तुलना हमेशा मधुबाला से की जाती रही है। उनकी खिलखिलाहट गजब की है। माधुरी दीक्षित भी अपनी तुलना मधुबाला से होने पर खुद को धन्य मानती हैं।

कमेंट करें
8OhAl