comScore

महाराष्ट्र के वर्धा में बोले पीएम, 'कांग्रेस-एनसीपी का गठबंधन कुंभकरण की तरह'

महाराष्ट्र के वर्धा में बोले पीएम, 'कांग्रेस-एनसीपी का गठबंधन कुंभकरण की तरह'

हाईलाइट

  • महाराष्ट्र के वर्धा में बोले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।
  • कांग्रेस और एनसीपी का गठबंधन कुंभकरण की तरह।
  • तेलंगाना और आंध्रप्रदेश में भी रैलियों को संबोधित करेंगे पीएम।

डिजिटल डेस्क, मुंबई/वर्धा/ हैदराबाद। लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज (सोमवार) को तीन राज्य महाराष्ट्र, तेलंगाना और आंध्रप्रदेश के दौरे पर हैं। पीएम मोदी महाराष्ट्र के बाद तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में जनसभाओं को संबोधित करेंगे। पीएम मोदी ने महाराष्ट्र के वर्धा में पहली रैली को संबोधित करते हुए एनसीपी और कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा।

पीएम ने कहा  एक समय था जब शरद पवार जी सोचते थे कि वो भी प्रधानमंत्री बन सकते हैं। उन्होंने ऐलान भी किया था कि वो ये चुनाव लड़ेंगे, लेकिन अचानक एक दिन बोले कि मैं तो यहां राज्यसभा में ही खुश हूं, मैं चुनाव नहीं लड़ूंगा। वे भी जानते हैं कि हवा का रुख किस तरफ है। पीएम ने कहा, एनसीपी में इस समय पारिवारिक युद्ध चल रहा है। पार्टी शरद पवार के हाथों से निकलती जा रही है और स्थिति ये है कि उनके भतीजे धीरे-धीरे पार्टी पर कब्जा करते जा रहे हैं। इसी वजह से एनसीपी को टिकट बंटवारे में भी दिक्कत आ रही है।

महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी का गठबंधन कुंभकरण की तरह है। जब वो सत्ता में होते हैं तो 6-6 महीने के लिए सोते हैं। 6 महीने में कोई एक उठता है और जनता का पैसा खाकर फिर सोने चला जाता है। शरद पवार खुद एक किसान होने के बावजूद किसानों को भूल गए, उनकी चिंताओं को भूल गए हैं। उनके कार्यकाल में कितने ही किसानों को खुदकुशी के लिए मजबूर होना पड़ा, लेकिन पवार साहब ने कोई परवाह नहीं की।  जिन्होंने 70 साल तक गरीब को गरीब बनाए रखा वो कभी गरीब का भला नहीं कर सकते है। ये वो लोग हैं जो गरीब के नाम पर पैसा लाकर, उस पैसे से अपनी तिजोरी भरते हैं। कांग्रेस और एनसीपी ने सिंचाई परियोजनाओं के नाम पर यहां के किसानों को लूटा है। दर्जनों सिंचाई परियोजनाएं दशकों तक लटकी रहीं। इन योजनाओं को पूरा करने का बीड़ा आपके इस प्रधानसेवक ने उठाया।


रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा....

  • वोट-बैंक की राजनीति के लिए एनसीपी और कांग्रेस किसी भी हद तक जा सकती हैं। इस देश के करोड़ों लोगों पर हिंदू आंतकवाद का दाग लगाने का प्रयास कांग्रेस ने ही किया है।
  • सुशील कुमार शिंदे जब भारत सरकार में मंत्री थे, तो उन्होंने इसी महाराष्ट्र की धरती से हिंदू आतंकवाद की चर्चा की थी। 
  • कुछ दिन पहले कोर्ट का फैसला आया है और इस फैसले से कांग्रेस की साजिश की सच्चाई देश के सामने आई है। 
  • हमारी 5 हजार साल से भी ज्यादा पुरानी संस्कृति को बदनाम करने का पाप कांग्रेस ने किया है। हिन्दू आतंकवाद शब्द कौन लाया आपको ये ध्यान रखना है।
  • जिसको कांग्रेस ने आतंकवादी कहा है वो अब जाग चुका है। शांतिप्रिय हिंदू समाज को, पूरे विश्व को परिवार मानने वाले हिंदू समाज को आतंकवादी कह दिया। इसी के कारण वो मैजोरिटी से भागकर माइनॉरिटी वाली सीट में शरण लेने के लिए मजबूर हो गए हैं। 
कमेंट करें
9rkTF