comScore

गुरु गोबिंद सिंह जयंती: 1947 की गलती का प्रायश्चित है करतारपुर कॉरिडोर:मोदी

January 13th, 2019 18:04 IST
गुरु गोबिंद सिंह जयंती: 1947 की गलती का प्रायश्चित है करतारपुर कॉरिडोर:मोदी

हाईलाइट

  • सिखों के 10वें गुरु गोबिंद सिंह की 352वीं जयंती ।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरु गोबिंद सिंह की याद में जारी किया सिक्का।
  • पीएम ने करतारपुर कॉरिडोर के लिए केंद्र सरकार की पहल की सरहाना की।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। रविवार को सिखों के 10वें गुरु गोबिंद सिंह की 352वीं जयंती है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरु गोबिंद सिंह की याद में सिक्का जारी किया है। प्रधानमंत्री आवास पर आयोजित इस कार्यक्रम में कई केंद्रीय मंत्रियों के अलावा पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह भी मौजूद रहे। सिक्का जारी करने के बाद पीएम ने एक सभा को भी संबोधित किया। मोदी ने संबोधन में करतारपुर कॉरिडोर के लिए केंद्र सरकार की पहल की सरहाना की। उन्होंने कहा कि अब श्रद्धालु बिना वीजा के गुरु नानक देव जी के प्रकाशोत्सव में शामिल होने के लिए पाकिस्तान स्थित नरोवाल जा सकेंगे।

1947 की चूक का किया जिक्र

उन्होंने कहा, 'केंद्र सरकार के अथक प्रयासों से करतारपुर कॉरिडोर बनने जा रहा है, अब गुरु नानक के मार्ग पर चलने वाला हर भारतीय दूरबीन के बजाए अपनी आंखों से गुरुद्वारा दरबार साहिब के दर्शन कर पाएगा। अगस्त 1947 में जो चूक हो गई थी ये उसका प्रायश्चित है। हमारे गुरू का सबसे महत्वपूर्ण स्थल सिर्फ कुछ ही किलोमीटर दूर था, लेकिन उसे भी अपने साथ नहीं लिया गया। ये कॉरिडोर उस नुकसान को कम करने का प्रमाणिक प्रमाण है।'

बता दें कि सिखों के दसवें गुरु- गुरु गोबिंद सिंह अपनी शिक्षाओं और आदर्शों के माध्यम से लोगों के लिए प्रेरणा का स्रोत रहे हैं। सिक्का जारी करने के बाद अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि भारत के पास जो संस्कृति और ज्ञान की विरासत है उसको दुनिया के चप्पे-चप्पे तक पहुंचाने का काम किया जा रहा है। 

कमेंट करें
d81NM