comScore

विपक्ष से पीएम मोदी की अपील- नंबर की चिंता छोड़ें, लोगों के मुद्दे उठाएं


हाईलाइट

  • पीएम मोदी ने कहा, पक्ष, विपक्ष से ज्यादा निष्पक्ष का भाव महत्व रखता है
  • पीएम ने कहा, लोकतंत्र में विपक्ष का सक्रिय होना जरूरी है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। 17वीं लोकसभा का पहला सत्र आज (17 जून) से शुरू हो गया है। यह सत्र 26 जुलाई तक चलेगा। संसद सत्र के शुरू होने से पहले सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मीडिया को संबोधित किया। पीएम ने विपक्ष से अपील की है कि, वह नंबर की चिंता छोड़ न करें, हमारे लिए उनकी भावना मूल्यवान है। संसद में जनता के हित में मुद्दे उठाएं।

मीडिया को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, पीएम मोदी ने कहा, पक्ष, विपक्ष से ज्यादा निष्पक्ष का भाव महत्व रखता है। मुझे विश्वास है कि, जन कल्याण को प्राथमिकता देते हुए हम आने वाले पांच साल में  सदन की गरिमा को ऊपर उठाने का प्रयास करेंगे। 

पीएम ने कहा, भारत के लोकतंत्र की विशेषता ताकत का अनुभव हम हर चुनाव में करते हैं। यह चुनाव इसलिए भी खास है कि आजादी के बाद सबसे ज्यादा महिला प्रतिनिधियों का चुना जाना, सबसे अधिक मतदान जैसे विशेषताओं का चुनाव रहा। कई दशक के बाद एक सरकार को पूर्ण बहुमत के साथ और पहले से अधिक सीटों के साथ जनता ने सेवा का अवसर दिया है। 

पीएम मोदी ने कहा, लोकतंत्र में विपक्ष का होना, सक्रिय होना और सामर्थ्यवान होना अनिवार्य शर्त है। मैं आशा करता हूं, विपक्ष के लोग नंबर की चिंता छोड़ दें। हमारे लिए उनका हर शब्द, हर भावना मूल्यवान है। जब हम चेयर पर एमपी के रूप में बैठते हैं तो पक्ष-विपक्ष से ज्यादा निष्पक्ष की भावना बहुत महत्वपूर्ण है। मुझे विश्वास है, निष्पक्ष भाव से जनकल्याण की भावना को ध्यान में रखकर सभी सदस्य इस सदन की गरिमा को ऊंचा उठाने में योगदान करेंगे। पीएम ने कहा, जब भी सदन चला है तो देशहित के निर्णय अच्छे हुए हैं। आशा करता हूं सभी दल साथ आएं और जनता के हित में लिए जाने वाले फैसलों में सहयोग करें।

कमेंट करें
RrYue