•  26°C  Sunny
Dainik Bhaskar Hindi

Home » National » Rahul gandhi say on investigation of judge loya death Controversy

जजों ने गंभीर सवाल उठाए, जस्टिस लोया की मौत पर सही जांच होनी चाहिए : राहुल गांधी

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 13th, 2018 10:56 IST

जजों ने गंभीर सवाल उठाए, जस्टिस लोया की मौत पर सही जांच होनी चाहिए : राहुल गांधी

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत में चल रहे सुप्रीम कोर्ट जज विवाद में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी अपना बयान दिया है। राहुल गांधी ने कहा है कि यह घटना बहुत गंभीर है। ऐसा पहली बार हुआ है, जब सुप्रीम कोर्ट के 4 जज ने इस प्रकार के गंभीर आरोप लगाए हैं। इस मामले की हाईलेवल पर उचित जांच होनी चाहिए। जज लोया की मौत की जांच सही तरीके से होनी चाहिए। राहुल ने कहा कि न्याय व्यवस्था पर हमें पूरा भरोसा है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उक्त बातें प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कही हैं। राहुल गांधी ने कहा है कि 4 जजों ने जो आरोप लगाए हैं, वे काफी संवेदनशील और अहम हैं। जजों ने जो आरोप लगाए हैं, उन पर हम सभी को गौर करना चाहिए। राहुल ने कहा है कि यह भारत के इतिहास में पहली बार हुआ है कि सुप्रीम कोर्ट के 4 जजों ने अपने चीफ जस्टिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

इसी प्रेस कांन्फ्रेंस में कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि जजों ने जज लोया के मामले की ओर संकेत किया है ऐसे में उनके द्वारा उठाए मसले पर सुप्रीम कोर्ट को विचार करना चाहिए। आगे उन्होंने कहा कि जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस का लोकतंत्र पर दूरगामी असर पड़ेगा।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट विवाद पर राहुल गांधी ने अपने घर पर एक बैठक आयोजित की थी। इसमें कांग्रेस नेता और वरिष्ठ वकील सलमान खुर्शीद, मनीष तिवारी, कपिल सिब्बल, विवेक तन्खा और पी. चिदंबरम समेत कई लोग मौजूद रहे। इस बैठक के बाद राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में सुप्रीम कोर्ट के जज विवाद पर अपना और पार्टी का बयान दिया।

गौरतलब है कि हाल ही में सुप्रीम कोर्ट के चार जजों ने चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया दीपक मिश्रा पर गंभीर आरोप लगाए हैं। चारों जज ने कहा कि 'हमने चीफ जस्टिस को चिठ्ठी भी लिखी थी कि कोर्ट में ठीक तरीके से काम नहीं हो रहा है, हमने इस बारे में उनसे मुलाकात भी की, लेकिन उन्होंने इस पर कोई कार्रवाई नहीं की।' प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जब मीडिया ने जजों से पूछा कि क्या ये जस्टिस बीएच लोया की संदिग्ध मौत से जुड़ा मामला है, तो इस पर जजों ने हां भरी। बता दें कि जस्टिस बीएच लोया की 1 दिसंबर 2014 को हार्ट अटैक से मौत हो गई थी और बाद में उनकी मौत के तार सोहराबुद्दीन एनकाउंटर से जुड़े।

loading...
Similar News
जेल में खुद के लिए सेवादार रखने पर चुप्पी साध गए लालू

जेल में खुद के लिए सेवादार रखने पर चुप्पी साध गए लालू

सेवानिवृत्त जज करेंगे नागपुर यूनिवर्सिटी से जुड़े छात्रवृत्ति घोटाले की जांच

सेवानिवृत्त जज करेंगे नागपुर यूनिवर्सिटी से जुड़े छात्रवृत्ति घोटाले की जांच

दिल्ली में कैब ड्राइवर ने की महिला जज को किडनैप करने की कोशिश

दिल्ली में कैब ड्राइवर ने की महिला जज को किडनैप करने की कोशिश

US जज का फेसबुक पर खुलासा, 50 महिलाओं से रहे 'सेक्सुअल' रिलेशन

US जज का फेसबुक पर खुलासा, 50 महिलाओं से रहे 'सेक्सुअल' रिलेशन

जजों को सातवें वेतनमान के लिए करना होगा दो साल का इन्तजार

जजों को सातवें वेतनमान के लिए करना होगा दो साल का इन्तजार

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

FOLLOW US ON