comScore

दक्षिण में एकजुट हुआ विपक्ष, स्टालिन ने राहुल गांधी को बताया PM उम्मीदवार

December 17th, 2018 09:46 IST
दक्षिण में एकजुट हुआ विपक्ष, स्टालिन ने राहुल गांधी को बताया PM उम्मीदवार

हाईलाइट

  • तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई में एक बार फिर पूरा विपक्ष एकजुट होता दिखाई पड़ रहा है।
  • यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी तमिलनाडु के पूर्व सीएम एम करुणानिधि की मूर्ति का अनावरण किया।
  • DMK ने अपने पार्टी मुख्यालय में यह मूर्ति लगाई है।

डिजिटल डेस्क, चेन्नई। तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई में एक बार फिर पूरा विपक्ष एकजुट दिखाई दिया। रविवार को यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने तमिलनाडु के पूर्व सीएम एम करुणानिधि की मूर्ति का अनावरण किया। इस मौके पर सोनिया ने कहा कि 'करुणानिधि जब तक जिंदा थे, वह हम सभी एक विचारधारा वाली पार्टियों को साथ देखना चाहते थे और मेरी भी यही इच्छा है।' बता दें कि कुछ महीनों पहले ही करुणानिधि का निधन हुआ था। उनकी याद में DMK ने अपने पार्टी मुख्यालय में यह मूर्ति लगाई है। मूर्ति अनावरण के बाद DMK चीफ स्टालिन ने राहुल गांधी को महागठबंधन का पीएम उम्मीदवार भी बताया। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी में मोदी के नेतृत्व वाले NDA को हराने की पूरी काबीलियत है।

इस मौके पर सोनिया और राहुल गांधी के अलावा DMK चीफ एमके स्टालिन, आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू, केरल के सीएम पिनराई विजयन, बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, साउथ के दिग्गज अभिनेता रजनीकांत, बीजेपी के शत्रुघ्न सिन्हा भी मौजूद थे। इस दौरान सभी दलों के नेता ने पीएम मोदी को हराने के लिए महागठबंधन की हुंकार भरी। वहां मौजूद कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए सोनिया गांधी ने कहा, हमें बीजेपी के खिलाफ एकजूट होने की जरूरत है। हम सभी एक विचारधारा वाली पार्टियों को एक होकर उन्हें देश को बरबाद करने से रोकना होगा। स्वर्गीय करुणानिधि का भी यही विचार था।

वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, करुणानिधि जी ने इस देश के सरकारी संस्थानों को बचाने का कार्य किया था। आज हमारे देश में एक ऐसी सरकार है जो इस देश और राज्य के लोगों की आवाज, कल्चर और संस्थानों जैसे कि सुप्रीम कोर्ट, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया और CBI को नुकसान पहुंचा रही है। करुणानिधि जी की याद में हम सभी बीजेपी के खिलाफ एकजुट होंगे और उनको हराएंगे। जबकि आंध्रा के सीएम चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि इस देश का यह हाल है कि गवर्नर तक गोवा, नागालैंड और तमिलनाडू जैसे राज्यों में अपने पावर का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए DMK चीफ स्टालिन ने कहा, पांच साल के पीएम मोदी के कार्यकाल में, देश 15 साल पीछे जा चुका है। अगर हम उन्हें एक और चांस देंगे तो देश 50 साल पीछे चला जाएगा। पीएम मोदी खुद को इस देश का राजा समझ रहे हैं। हम सभी को लोकतंत्र को बचाने के लिए एकजुट होना पड़ेगा। हमें दिल्ली में एक नए प्रधानमंत्री को बनाने में मदद करनी होगी। मैं पीएम पद के लिए तमिलनाडु की ओर से राहुल गांधी को उम्मीदवार बनाने का प्रस्ताव रखता हूं। उनमें मोदी सरकार को हराने की पूरी काबीलियत है।

बता दें कि संसद में शुरू हो रहे शीतकालीन सत्र से पहले भी विपक्ष ने एक बैठक बुलाई थी। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और TDP के अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू द्वारा बुलाई गई इस बैठक में आम आदमी पार्टी, नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी, नेशनल कॉन्फ्रेंस और तृणमूल कांग्रेस समेत कुल 17 पार्टियां शामिल हुईं थीं। वहीं सपा और बसपा ने इस मीटिंग से किनारा कर लिया था। 

कमेंट करें
rL0jY