comScore

दिल्ली में छात्रों से मिलने पहुंचे राहुल, बोले - देश का सबसे बड़ा संकट बेरोजगारी है

February 23rd, 2019 19:30 IST
दिल्ली में छात्रों से मिलने पहुंचे राहुल, बोले - देश का सबसे बड़ा संकट बेरोजगारी है

हाईलाइट

  • दिल्ली में छात्रों से मिले राहुल गांधी।
  • बोला भारतीय जनता पार्टी पर जमकर हमला।
  • दिए छात्रों के सवालों के जवाब।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष  राहुल गाँधी शनिवार को कालेज छात्रों से मुलाकात करने पहुंचे। दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में चल रहे इस कार्यक्रम में राहुल ने छात्रों से ढेर सारी बातें की। इस दौरान उन्होंने कालेज से जुड़े किस्से साझा किए और साथ ही सरकार पर भी जमकर हमला बोला। एक छात्रा के सैनिकों की शहादत को लेकर पूछे सवाल पर राहुल ने भरोसा दिलाया कि उनकी सरकार बनी तो अर्धसैनिक बलों को भी शहीद का दर्जा मिलेगा। बता दे कि कांग्रेस अध्यक्ष हाल ही में तिरुपति की यात्रा कर लौटे हैं।

पीएम को बात सुननी चाहिए ना कि अपनी बात कहते रहना

राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि एक प्रधानमंत्री को आपकी बातों को सुनना चाहिए। हमारे प्रधानमंत्री ने कभी आपकी बात नहीं सुनी, इस तरह के कपड़े पहनकर यहां आने का एक ही कारण है कि मैं आपको ज्यादा से ज्यादा सुन सकूं। राहुल ने छात्रों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि आप मेरे पास अपनी कोई भी बात लेकर आ सकते हैं। राहुल ने संघ की भी जमकर आलोचना की। उन्होंने कहा कि भारत के शिक्षा तंत्र को संघ ने अपना गुलाम बना लिया है, संघ को अपनी सोच और विचारधारा के अलावा किसी भी चीज से मतलब नहीं है। यूनिवर्सिटीज में एक संगठन से प्रेरित कुलपति छात्रों कि बेहतरी के बारे में नहीं सोच रहे हैं। राहुल ने कहा कि अपनी विचारधारा की मदद से भारत की शिक्षा को हथियार बनाना चाहते है, यह छात्रों का अपमान है।


छात्रों के सवाल गांधी के जवाब

राहुल गांधी ने इस कार्यक्रम के दौरान छात्रों के सवालों के जवाब भी दिए। दिल्ली यूनिवर्सिटी की एक छात्रा ने राहुल से सवाल किया कि अर्धसैनिक बलों के जवानों को शहीद का दर्जा क्यों नहीं मिलता? इस पर राहुल ने कहा कि हमारी सरकार जैसे ही आएगी अर्धसैनिक बलों के जवानों को भी शहीद का दर्जा दिया जाएगा। दिल्ली के ही एक और छात्र ने राहुल से शिक्षा बजट को लेकर सवाल किया। इस पर राहुल ने कहा हम भारतीय जनता पार्टी की तरह शिक्षा के निजीकरण में भरोसा नहीं करते। हम चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा बजट शिक्षा पर खर्च होना चाहिेए। इसके अलावा राहुल ने छात्रों के बीच जाकर अपने कॉलेज का भी एक रोचक किस्सा उन्हें सुनाया। कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि एक बार कालेज के दौरान उनकी भी रैगिंग ली गई थी।


बेरोजगारी पर वार

राहुल ने सरकार की नजरअंदाजी पर सवाल उठाते हुए कहा कि उन्हें समझ लेना चाहिए कि देश में सबसे बड़ा संकट बेरोजगारी है। देश के युवाओं के पास नौकरी नहीं है, जिसके कारण वह नाराज हैं। हमारा मुकाबला किसी और से ज्यादा चीन के साथ है।

कमेंट करें
rkuGp
कमेंट पढ़े
Rpppppp February 24th, 2019 17:43 IST

Chaliye 70 saal nana parnana nai mummy ke raaj karne ke baad dhyan Gaya Inka. Inke time india ki job growth defence me ranking 2nd thi more than Russia n less than US. Jab seemodi aaya people don't have jobs, defence bcame 100 position low than Nepal