comScore

पश्चिम बंगाल: आसनसोल में 30 उपद्रवी गिरफ्तार, इलाके में इंटरनेट सेवा बंद

March 29th, 2018 11:57 IST
पश्चिम बंगाल: आसनसोल में 30 उपद्रवी गिरफ्तार, इलाके में इंटरनेट सेवा बंद

डिजिटल डेस्क, आसनसोल। रामनवमी के अवसर पर पश्चिम बंगाल में हुई हिंसा अभी तक थमने का नाम नहीं ले रही है। हिंसा की आग में बंगाल लगातार जल रहा है। नेता बयानबाजी कर रहे हैं और उपद्रवी अराजकता फैला रहे हैं। आसनसोल के पुलिस कमिश्नर के अनुसार, इंटरनेट सर्विस को अगले 48 घंटों के लिए बंद कर दिया गया है। आसनसोल में करीब 30 लोगों को अरेस्ट किया गया है। इन सभी लोगों पर दंगे फैलाने का आरोप है। बताया जा रहा है कि अभी भी कई छोटे गांवों में हालात बिगड़े हुए हैं। पुलिस चप्पे-चप्पे पर मौजूद है। कानून व व्यवस्था बनाए रखने के लिए इलाके में बड़े पैमाने पर पुलिस और रैपिड एक्शन फोर्स (रैफ) के जवानों को भी तैनात किया गया है।


 

राज्यपाल के दौरे को लेकर सुरक्षा से इंकार

राज्य के राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी भी इसी दौरान आसनसोल जाने की तैयारी कर रहे थे, लेकिन राज्य सरकार ने उन्हें सुरक्षा मुहैया कराने से हाथ खड़े कर दिए हैं। कोलकाता में राजभवन की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है, ‘राज्य सरकार ने सूचित किया है कि क्षेत्र में पुलिस की तैनाती को देखते हुए माननीय राज्यपाल को पर्याप्त सुरक्षा मुहैया कराना मुश्किल होगा। पास के रानीगंज और आसनसोल क्षेत्रों में स्थिति अब भी तनावपूर्ण बनी हुई है। माननीय राज्यपाल ने समाज के सभी वर्गों से शांति बनाए रखने की अपील की है। 


केद्र सरकार ने मांगी रिपोर्ट

वहीं केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो भी गुरुवार को आसनसोल का दौरा कर सकते हैं, लह लगातार हिंसा को लेकर सीएम ममता बनर्जी पर निशाना साथ रहे हैं। बीते दिन उन्होंने ममता सरकार को जिहादी सरकार भी बता दिया था। केंद्र सरकार ने भी इस मुद्दे पर राज्य सरकार से रिपोर्ट भी मांगी थी। हिंसा फैलने के बाद राज्य में जिस तरह की परिस्थिति बनी है उस पूरे मुद्दे पर केंद्र को ओर से रिपोर्ट तलब की गई थी. इसके अलावा केंद्र सरकार ने राज्य सरकार से कहा है कि अगर उन्हें पैरामिलिट्री फोर्स की जरूरत है, तो वह मुहैया करा सकती है। 


 

राज्य सरकार ने ठुकराई केंद्र की पेशकश

हालांकि, बंगाल सरकार ने केंद्र की पेशकश को ठुकरा दिया है, बता दें कि 25 मार्च को रामनवमी के मौके पर जुलूस को लेकर बर्धमान जिले के रानीगंज इलाके में हिंसा हो गई थी। जिसके बाद से तनाव मचा हुआ है। अब तक दो लोगों की मौत की खबर सामने आई है। पूरे इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है। विभिन्न इलाकों में बुधवार को उपद्रवियों का तांडव जारी रहा. आरके डंगाल के आमबागान, श्रीनगर बीपीएल कॉलोनी, चांदमारी बाजार, बालबोधन स्कूल के पीछे, धाधका गारूई पुल के पास जम कर आगजनी, पथराव तथा लूट की गई। बताया जा रहा है इस पथराव में एक 6 साल की मासूम की मौत हो गई है। 
 

कमेंट करें
qyDPS