comScore

बंगाल: लोगों ने लगाए ममता बनर्जी हाय-हाय के नारे, पुलिस ने किया लाठीचार्ज


हाईलाइट

  • गुरुवार को भाटपारा में टीएमसी-बीजेपी समर्थकों के बीच हुई थी झड़प
  • हिंसक झड़प में दो स्थानीय लोगों की मौत हो गई थी
  • बीजेपी का आरोप है, पुलिस की फायरिंग में गई लोगों की जान

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा रुकने का नाम ही नहीं ले रही है। बंगाल के उत्तर परगना के भाटपारा में बीजेपी और टीएमसी के बीच झड़प में दो लोगों की मौत के बाद से स्थिति अभी भी तनावपूर्ण बनी हुई है। वहीं बीजेपी लगातार भाटपारा हिंसा पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को घेरने में जुटी है। बीजेपी के तीन सांसदों का दल शनिवार को बंगाल का दौरा करने पहुंचा है। दल में एसएस अहलूवालिया, सत्यपाल सिंह और वीडी राम शामिल हैं, इस दौरान लोगों ने ममता बनर्जी  हाय-हाय के नारे लगाए, जिसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर लोगों को खदेड़ दिया।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने हिंसा में मारे गए दो लोगों की मौत पर दुख जताया है। पार्टी ने तीन सदस्यों की एक समिति भी गठित की है। यह समिति बंगाल का दौरा कर अपनी रिपोर्ट बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को सौंपेगी। बीजेपी सांसद एसएस अहलूवालिया के नेतृत्व में टीम शनिवार को कोलकाता पहुंची। टीम में उनके अलावा सांसद सत्यपाल सिंह और बीडी राम भी हैं। सांसद सहित बीजेपी समर्थक टीएमसी सरकार के खिलाफ मार्च कर रहे हैं।

दरअसल गुरुवार को भाटपारा के नए पुलिस स्टेशन के पास टीएमसी और बीजेपी समर्थकों के बीच हिंसक झड़प हुई थी। इस दौरान बम फेंके गए और गोलियां भी चलाई गई थीं। स्थिति को काबू में करने के लिए पुलिस और आरएएफ को हवाई फायर करने पड़े थे। इस झड़प में दो स्थानीय लोगों की मौत हो गई थी। हालांकि बीजेपी का आरोप है, पुलिस की गोली से दो लोग मारे गए हैं। इन आरोपों की अभी पुष्टि नहीं की जा सकी है।

वहीं भाटपारा हिंसा के खिलाफ शुक्रवार को बीजेपी ने कोलकाता की सड़कों पर विरोध प्रदर्शन किया था। इस दौरान बीजेपी समर्थकों ने न केवल बंगाल को बचाने की गुहार लगाई बल्कि ममता बनर्जी सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। उत्तर 24 परगना के प्रभावित इलाकों में तनाव को देखते हुए धारा 144 लागू थी। इसके बाद बी बीजेपी ने विरोध मार्च निकाला। मार्च के दौरान पुलिस पर पथराव भी हुआ।


 

कमेंट करें
4RJ9P