comScore

EC के प्रतिबंध के बाद योगी का नया जुगाड़, हनुमान मंदिर-अयोध्या के बाद कल जाएंगे काशी

EC के प्रतिबंध के बाद योगी का नया जुगाड़, हनुमान मंदिर-अयोध्या के बाद कल जाएंगे काशी

हाईलाइट

  • EC के बैन की वजह से चुनाव प्रचार नहीं कर सकते सीएम योगी।
  • प्रतिबंध के बाद योगी का नया जुगाड़, मंदिर-मंदिर पहुंच रहे सीएम।
  • हनुमान मंदिर, अयोध्या के बाद अब कल जाएंगे काशी।

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। चुनाव आयोग के प्रतिबंध के बाद भले ही उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ की जुबान बंद हो गई हो, लेकिन उन्होंने लोगों तक अपना संदेश पहुंचाने का नया जुगाड़ कर लिया है। चुनाव आयोग ने जिस बात पर योगी के प्रचार करने पर रोक लगाई थी। अब सीएम योगी ने उसे ही अपना हथियार बना लिया है। चुनाव आयोग के तीन दिनों के बैन को योगी आदित्यनाथ ने बेहतर ढंग से इस्तेमाल करने की रणनीति बनाई है। योगी ने ऐसा जुगाड़ तलाशा है जिससे वो राजनीतिक संदेश भी दे रहे हैं और चुनाव आयोग कुछ कर भी नहीं पा रहा। अली-बजरंग बली वाले भाषण को लेकर चुनाव आयोग ने योगी के चुनाव प्रचार पर रोक लगाई थी, इसीलिए योगी हनुमान भक्ति में रंगे हुए नजर आ रहे हैं।

प्रतिबंध के दूसरे दिन यानी आज (बुधवार) को श्रीराम की नगरी अयोध्या पहुंचे योगी ने दलित बस्ती का दौरा किया। उन्होंने यहां दलित बस्ती सुसहटी में रहने वाली एक दलित महावीर के यहां खाना खाया है। इसके बाद योगी मणिराम दास छवनी पहुंचकर महंत नृत्य गोपाल दास से मुलाकात की। इसके बाद दिंगबर अखाड़ा पहुंचे और यहां संतो से मुलाकात की। इसके बाद उन्होंने हनुमानगढ़ी मंदिर में दर्शन किए। बता दें कि इससे पहले मंगलवार को भी योगी लखनऊ के हनुमान सेतु स्थित प्रसिद्ध हनुमान मंदिर में पूजा की। इतना ही नहीं, बैन के तीसरे दिन उन्होंने बनारस में काशी विश्वनाथ मंदिर और संकटमोचन के दर्शन करने की रणनीति बनाई है। 

बता दें कि प्रतिबंध की वजह से योगी ना तो रैली कर सकते हैं, ना राजनीतिक बैठक और ना चुनाव से जुड़ी कोई बयानबाजी कर सकते हैं।चुनाव आयोग ने उन्हें सोशल मीडिया के इस्तेमाल से भी रोक रखा है। इसी के चलते योगी ने ऐसा तरीका तलाशा है, जिस पर अगर चुनाव आयोग रोक लगाती है तो बीजेपी को और भी राजनीतिक फायदा मिल सकता है। 

कमेंट करें
Xn46u