योगी को एक और झटका: मौर्य के बाद एक और मंत्री ने दिया इस्तीफा, सपा में शामिल होने की अटकलें तेज

January 12th, 2022

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। यूपी विधानसभा चुनाव होने से पहले ही बीजेपी बड़ा झटका लगा है। बता दें कि मंगलवार के योगी सरकार कैबिनेट मंत्री रहे स्वामी प्रसाद मौर्या के बाद आज यानी बुधवार को कैबिनेट मंत्री दारा सिंह चौहान ने अपने पद से इस्तीफा देकर सपा की साइकिल पर सवार हो गए हैं। खबरें आ रही हैं कि राज्य के चार अन्य विधायकों ने भी उनके समर्थन में भाजपा को अलविदा कह  दिया है। बीजेपी पार्टी के दो कद्दावर नेताओं ने  यूपी की सियासत में गरमी बढ़ा दी है। आपको बता दें कि दारा सिंह चौहान यूपी सरकार में वन्य एवं पर्यावरण मंत्री रहे हैं, दारा सिंह चौहान मऊ की मधुबन सीट से विधायक हैं। 

दारा सिंह ने लगाया आरोप  

Image

आपको बता दें कि दारा सिंह चौहान ने राज्यपाल को चिट्ठी लिखकर अपना इस्तीफा सौंपा। उन्होंने लिखा कि मैंने पूरे मनोयोग के साथ अपने विभाग की बेहतरी के लिए कार्य किया, किंतु सरकार की पिछड़ों, दलितों , किसानों और बेरोजगार नौजवानों की घोर उपेक्षात्मक रवैये के साथ-साथ पिछड़ों और दलितों के आरक्षण के साथ जो खिलवाड़ हो रहा है, उससे मैं आहत होकर उत्तर प्रदेश के मंत्रिमंडल से इस्तीफा देता हूं।

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या ने किया ट्वीट
उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या ने दारा सिंह के इस्तीफे की खबर के बाद, ट्वीट करते हुए लिखा कि परिवार का कोई सदस्य भटक जाये तो दुख होता है जाने वाले आदरणीय महानुभावों को मैं बस यही आग्रह करूँगा कि डूबती हुई नांव पर सवार होने से नुकसान उनका ही होगा बड़े भाई श्री दारा सिंह जी आप अपने फैसले पर पुनर्विचार करिए।

अखिलेश ने दारा सिंह के साथ शेयर की तस्वीर

 आपको बता दें कि सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा कि सामाजिक न्याय’ के संघर्ष के अनवरत सेनानी  दारा सिंह चौहान जी का सपा में ससम्मान हार्दिक स्वागत एवं अभिनंदन! सपा व उसके सहयोगी दल एकजुट होकर समता-समानता के आंदोलन को चरम पर ले जाएँगे, भेदभाव मिटाएँगे! ये हमारा समेकित संकल्प है! सबको सम्मान ~ सबको स्थान! और अंत में लिखा कि मेला होबे।

वरिष्ठ पत्रकार ने कसा तंज
आपको बता दें कि नवभारत टाइम्स के वरिष्ठ पत्रकार नदीम ने ट्वीट कर योगी सरकार में मंत्री रहे स्वामी प्रसाद  मौर्य और दारा सिंह पर तंज कसते हुए लिखा कि दोनों इस्तीफों का मजमून बताता है कि वे कहीं एक ही जगह से 'ड्राफ्ट' हो रहे हैं। बता दें वरिष्ठ पत्रकार नदीम ने उन दोनों मंत्रियों की चिट्ठियों को ट्वीट किया था, जिसमें बताया गया था कि किन कारणों से पार्टी को अपने पद से इस्तीफा दे रहा हूं। दोनों चिट्ठियों की स्क्रिप्ट समान होने के कारण पत्रकार ने चुटकी ली।