पंजाब विधानसभा चुनाव 2022: केजरीवाल ने रखा मान, चुनाव बाद भगवंत के हाथ होगी पंजाब की कमान!

January 4th, 2022

डिजिटल डेस्क, चंडीगढ़। आगामी पंजाब विधानसभा चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दल चुनावी रैलियां कर सत्ता में वापसी के लिए पूरी ताकत झोंक रहे हैं। आम आदमी पार्टी दिल्ली वाला फॉर्मूला लगाकर पंजाब विधानसभा चुनाव में उतरी है और लोक लुभावन चुनावी घोषणाएं भी कर चुकी है।

हालांकि आम आदमी पार्टी को कितना इससे नफा-नुकसान होगा, ये आने वाला समय बताएगा। बता दें कि मंगलवार को आम आदमी पार्टी ने बड़ा ऐलान किया है और पार्टी के लोकसभा सांसद भगवंत मान सिंह के नेतृत्व में विधानसभा चुनाव लड़ेगी। हालांकि आम आदमी पार्टी भगवंत मान के नाम का औपचारिक ऐलान चुनाव आयोग की घोषणा के बाद ही करेगी। 

भगवंत मान ही क्यों सीएम पद के दावेदार?

आपको बता दें कि भगवंत मान पंजाब आम आदमी पार्टी में बड़ा चेहरा है। पंजाब से भगवंत मान आम आदमी पार्टी के इकलौते सांसद है जिन्होंने 2019 लोकसभा चुनाव में जीत हासिल की थी। साल 2014 में भगवंत मान सिंह संगरूर से विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज करने में भी कामयाब रहे थे। माना जा रहा है कि पंजाब में भगवंत मान सिंह की लोकप्रियता काफी अधिक है।

आम आदमी पार्टी प्रमुख व दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने भी भगवंत मान पर भरोसा जताई है और आगामी विधान सभा चुनाव में सीएम चेहरा बनाए जानें पर भी सहमत है। केजरीवाल को भरोसा है कि पंजाब में पार्टी भगवंत के नेतृत्व में बेहतर प्रर्दशन कर सकती है। हालांकि भगवंत मान के समर्थक भी आम आदमी पार्टी के मुखिया केजरीवाल पर सीएम चेहरे के ऐलान को लेकर दबाव बना रहे हैं।  

आप पार्टी 2017 की गलती नहीं दोहराना चाहती

बता दें कि पिछले विधानसभा चुनाव में आप पार्टी बिना सीएम चेहरे के चुनावी रण में उतरी थी और महज 20 सीटों पर ही संतोष करना पड़ा था। हालांकि इस वक्त आदमी आदमी पार्टी के 10 विधायक या तो इस्तीफा दे चुके हैं या फिर किसी दूसरे दल में शामिल हो गए हैं। आम आदमी पार्टी आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर किसी तरह से रिस्क नहीं लेना चाहती है। माना जा रहा है कि आम आदमी पार्टी इसी को मद्देनजर रखते हुए 2022 पंजाब विधान सभा चुनाव सीएम चेहरे का ऐलान कर ही लड़ेगी।