दैनिक भास्कर हिंदी: दिल्ली विधानसभा में केजरीवाल ने फाड़ी कृषि कानून की कॉपी, बोले- अंग्रेजों से बुरी न बने सरकार

December 17th, 2020

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को विधानसभा में कृषि कानून की कॉपी फाड़ दी। केजरीवाल ने कहा, फार्म लॉ को महामारी के दौरान संसद में पारित करने की क्या जल्दी थी? यह पहली बार हुआ है कि राज्यसभा में मतदान के बिना 3 कानून पारित किए गए। इसलिए मैंने इस विधानसभा में तीनों कानूनों की कॉपी को फाड़ दिया। उन्होंने कहा, केंद्र सरकार अंग्रेज से बदतर न बने और कानून वापिस ले।

 

 

केजरीवाल ने कहा, सरकार और कितनी जान लगी? 20 दिनों के विरोध के दौरान 20 से अधिक किसानों की मौत हो चुकी है। इस आंदोलन में औसतन एक किसान प्रतिदिन शहीद हो रहा है। एक-एक किसान भगत सिंह बनकर आंदोलन में बैठा है।

सरकार कह रही है कि वे किसानों तक पहुंच रहे हैं और फार्म बिलों के लाभों को समझाने की कोशिश कर रहे हैं। यूपी के सीएम ने किसानों से कहा कि वे इन बिलों से लाभान्वित होंगे क्योंकि उनकी जमीन नहीं छीनी जाएगी। क्या यह एक लाभ है?

भाजपा वालों को एक लाइन रटवा दी गई है कि किसान देश मे कहीं भी फसल बेच सकता है। हवा में बात करने से क्या होगा? किसानों को नहीं भाजपाइयों को भ्रमित किया गया है, भाजपाइयों को अफीम खिला दी गई है।  

केजरीवाल ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में हमारे वकील ने केंद्र सरकार को जिम्मेदार बताया है। कोरोना काल में क्यों ऑर्डिनेंस पास किया?  ये कानून भाजपा के चुनाव के फंडिंग के लिए बने हैं। उन्होंने बताया कि दिल्ली विधानसभा में कृषि कानूनों को निरस्त करने का संकल्प पत्र स्वीकार कर लिया गया है। 

खबरें और भी हैं...