क्रिकेट : हर्षा भोगले के ट्वीट पर भड़के बेन स्टोक्स, एक के बाद एक ट्वीट कर जताई नाराजगी

October 1st, 2022

हाईलाइट

  • दीप्ति शर्मा ने चार्ली डीन को गेंद फेंकने से पहले ही नॉन-स्ट्राइकर एण्ड पर रन आउट कर दिया था।

डिजिटल डेस्क, लॉर्ड्स। भारतीय महिला टीम की स्टार ऑलराउंडर दीप्ति शर्मा का इंग्लिश बल्लेबाज को माकडिंग आउट करने का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस घटना को हुए करीब दस दिन होने वाले हैं, लेकिन अभी भी मामले पर कई एक्सपर्ट्स अपनी-अपनी राय दे रहे हैं। इसी कड़ी में शुक्रवार को हर्षा भोगले ने एक के बाद कई ट्वीट किए थे। जिसमें उन्होंने इंग्लैंड के कल्चर और सोच को लेकर कई बातें बोलीं थीं। लेकिन हर्षा भोगले के इन बयानों से इंग्लिश कप्तान ने भी ट्वीट पर ही ऐसे जवाब दिए कि हर्षा भोगले की बोलती ही बंद कर दी।  

स्टोक्स ने लगाई भोगले की क्लास 

दरअलस, हर्षा भोगले के इन ट्वीट्स को पढ़कर इंग्लैंड टेस्ट टीम के कप्तान बेन स्टोक्स नाराज नजर आ रहे हैं। स्टोक्स ने एक के बाद एक चार ट्वीट कर अपनी नाराजगी जाहिर भी की और कहा कि माकडिंग पर सिर्फ इंग्लैंड के लोग ही बयान नहीं दे रहे हैं, बल्कि पूरी दुनिया अपनी राय दे रही है। इसमें कल्चर का कोई लेना-देना नहीं है, यह सिर्फ लोगों की राय है। 

बेन स्टोक्स ने हर्षा के इंग्लिश कल्चर पर किए गए ट्वीट पर सवाल किया कि, "हर्षा ... मांकड़ को लेकर लोगों द्वारा दी गई प्रतिक्रिया में संस्कृति ला रहे हैं?" 

वहीं अपने अगले ट्वीट में स्टोक्स ने कहा,  "हर्षा... 2019 वर्ल्ड कप फाइनल को हुए 2 साल से ज्यादा हो गए हैं और आज तक मुझे उसको लेकर कई मैसेज मिल रहे हैं, जिसमें भारतीय फैंस भी हैं, क्या आपको इससे परेशानी होती है?"

स्टोक्स ने आगे लिखा, "क्या यह संस्कृति की बात है ?? ....बिल्कुल नहीं, मुझे दुनिया भर के लोगों से ओवरथ्रो के बारे में मैसेज प्राप्त होते हैं, क्योंकि दुनिया भर के लोगों ने मांकड़ की बर्खास्तगी पर टिप्पणी की है, न कि केवल वे लोग जो अंग्रेज हैं।"

स्टोक्स ने आखिर में कहा, "इस विशेष घटना पर बाकी दुनिया की प्रतिक्रिया के बारे में क्या? इंग्लैंड एकमात्र क्रिकेट खेलने वाला देश नहीं है जिसने इस फैसले के बारे में बात की है।" 

क्या है पूरा मामला? 

गौरतलब है कि, यह मामला भारत और इंग्लैंड के बीच बीते महीने खेली गई वनडे सीरीज के तीसरे मुकाबले का है। जिसमें इंग्लिश टीम को मुकाबला जीतने के लिए 17 रनों की जरूरत थी और उसके नौ विकेट पहले ही गिर चुके थे। तभी 44वां ओवर कर रही दीप्ति शर्मा ने चार्ली डीन को गेंद फेंकने से पहले ही नॉन-स्ट्राइकर एण्ड पर रन आउट कर दिया था। जिसके बाद क्रिकेट जगत में दीप्ति के खेल भावना की खूब आलोचना हुई थी।