दैनिक भास्कर हिंदी: मुक्केबाजी: बोस्फोरस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंची निखत जरीन, दो बार की वर्ल्ड चैम्पियन को हराया, गौरव सौलंकी भी जीते

March 19th, 2021

हाईलाइट

  • दो बार की विश्व चैंपियन कजाकिस्तान की नाजिम किजाएबे को 4-1 से हराया
  • 2019 की वर्ल्ड चैम्पियनशिप की सिल्वर मेडलिस्ट से होगी भिड़ंत
  • गौरव सोलंकी भी 4-1 से जीते, कांस्य पदक पक्का किया

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत की निखत जरीन ने तुर्की के इस्तांबुल में चल रहे बोस्फोरस बॉक्सिंग टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 24 साल की निखत ने महिला वर्ग के 51 किग्रा वैट कैटेगरी के क्वाटर फाइनल में दो बार की विश्व चैंपियन कजाकिस्तान की नाजिम किजाएबे को 4-1 से हराया। इसके साथ ही निखत का टुर्नामेंट में कांस्य पदक पक्का हो गया है। 

इससे पहले जरीन ने प्री क्वार्टर फाइनल में 2019 की वर्ल्ड चैम्पियन रूस की पाल्तसेवा एकातेरिना को हराया था। उन्होंने 2014 और 2016 विश्व चैंपियनशिप की स्वर्ण पदक विजेता किजाएबे को 4-1 से हराया और सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया और कम से कम भारत के लिए कांस्य पदक पक्का किया।

2019 की वर्ल्ड चैम्पियनशिप की सिल्वर मेडलिस्ट से होगी भिड़ंत
नाजिम ने 2014 और 2016 की वर्ल्ड चैम्पिनयशिप में गोल्ड मेडल जीता था। इस जीत के साथ ही भारतीय मुक्केबाज ने टूर्नामेंट में कम से कम ब्रॉन्ज मेडल पक्का कर लिया है। सेमीफाइनल में जरीन का सामना 2019 की वर्ल्ड चैम्पियनशिप की सिल्वर मेडलिस्ट तुर्की की बुसेनाज चाकिरोग्लू से होगा।

गौरव सोलंकी भी 4-1 से जीते
जरीन के अलावा 2018 राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता गौरव सोलंकी (57 किग्रा) ने 57 किलोग्राम वेट कैटेगरी में आईकोल मिजान को 4-1 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई और कांस्य पदक पक्का कर लिया। सेमीफाइनल में गौरव का सामना अर्जेटीना के निर्को कुएलो से मुकाबला होगा।

ओलिंपिक में निखत नहीं मेरीकॉम करेंगी भारत का प्रतिनिधित्व
निखत जरीन भले ही हाल फिलहाल जोरदार फॉर्म में चल रही हों, ओलिंपिक में महिलाओं की 51 किलोग्राम वेट कैटेगरी में 6 बार की वर्ल्ड चैम्पियन और पूर्व ओलिंपिक ब्रॉन्ज मेडलिस्ट एमसी मेरीकॉम भारत का प्रतिनिधित्व करेंगी। मेरीकॉम ने ओलिम्पिक क्वालिफायर के लिए हुए ट्रायल में निखत को 9-1 से हराया था। इसके बाद उन्होंने क्वालिफायर में अच्छा प्रदर्शन कर ओलिंपिक कोटा भी हासिल किया था। भारतीय मुक्केबाजी संघ का साफ नियम है कि जिस मुक्केबाज को कोटा मिलता है, उसे ही ओलिंपिक में भाग लेने का मौका मिलता है।

सोनिया, प्रवीण, ज्योति और शिवाकी हार
भारत की अन्य महिला मुक्केबाज सोनिया लाठर (59 किग्रा), परवीन (60 किग्रा) और ज्योति (69 किग्रा) क्वार्टर फाइनल मुकाबला हारकर बाहर हो गईं। पुरुषों में शिव थापा (63 किग्रा) को तुर्की के हकान दोगान से 1-4 से पराजय का सामना करना पड़ा।
 

खबरें और भी हैं...