दैनिक भास्कर हिंदी: मुक्केबाजी ओलम्पिक क्वालीफायर : पंघल क्वार्टर फाइनल में, गौरव हारे(लीड-1)

March 7th, 2020

हाईलाइट

  • मुक्केबाजी ओलम्पिक क्वालीफायर : पंघल क्वार्टर फाइनल में, गौरव हारे(लीड-1)

अम्मान, 7 मार्च (आईएएनएस)। विश्व चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता भारतीय मुक्केबाज अमित पंघल ने शनिवार को यहां जारी एशिया/ओसनिया ओलम्पिक क्वालीफायर के पुरुषों के 52 किलोग्राम भारवर्ग के क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली जबकि गौरव सोलंकी को हार का सामना करना पड़ा।

पहले राउंड में बाई पाने वाले अमित ने 52 किग्रा के दूसरे राउंड में मंगोलिया के इनखमानदाख खारखु को एक कड़े मुकाबले में 3-2 से मात दी। अमित अब ओलंपिक कोटा हासिल करने से मात्र एक जीत दूर रह गए हैं।

वह एशिया/ओसनिया ओलम्पिक क्वालीफायर के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाले 10वें भारतीय मुक्केबाज बन गए हैं। टूर्नामेंट में अब तक चार महिला और छह पुरुष सहित कुल भारतीय मुक्केबाज अंतिम-8 में पहुंच चुके हैं और वे अब ओलंपिक कोटा हासिल करने से मात्र एक जीत दूर हैं।

अमित ने पहले राउंड में तेजी दिखाते हुए कई अच्छे पंच लगाए और अपने प्रतिद्वंद्वी पर आक्रमण जारी रखा और उन्होंने पहले राउंड में 4-1 की बढ़त हासिल कर ली। दूसरे राउंड में दोनों मुक्केबाजों के बीच जोरदार टक्कर हुई।

लेकिन तीसरे और अंतिम राउंड में अमित थोड़े पीछे रह गए और मंगोलियाई मुक्केबाज ने कुछ अच्छे पंच लगाए। इसके बावजूद भारतीय मुक्केबाज ने खुद पर भरोसा रखते हुए जीत हासिल करके क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया।

अमित का 52 किग्रा में खारखु के खिलाफ इससे पहले 1-1 का रिकॉर्ड था और अब उन्होंने मंगोलियाई मुक्केबाज के खिलाफ 2-1 का रिकॉर्ड कायम कर लिया है।

एशियाई खेलों के चैंपियन अमित ने इस मुकाबले के बाद कहा, आज का मुकाबला मेरे लिए काफी अच्छा रहा और मैं जो रणनीति के साथ गया था, उसी के साथ खेला। हमने पहले राउंड से ही स्कोरिंग को कायम रखा। उसके बाद हमने अगले दो राउंड के लिए जो रणनीति बनाई थी, वह कारगर रही।

क्वार्टर फाइनल में अमित का सामना सोमवार को दक्षिण एशियाई खेलों के चैंपियन फिलिपिंस के कार्लो पालम से होग। उन्होंने अपने क्वार्टर फाइनल मुकाबले को लेकर कहा, मैं पहले भी दो बार फिलिपिंस के मुक्केबाज के साथ खेल चुका हूं। अब मेरा यही लक्ष्य रहेगा कि मैं इस जीत मुकाबले को भी जीतूं और अपने देश के लिए ओलंपिक कोटा हासिल करूं।

वहीं, राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता गौरव को अपने पहले दौर में ही शिकस्त खानी पड़ी। टॉप सीड और विश्व चैंपियन उज्बेकिस्तान के मिराजीबेक मिर्जाखालिलोव ने भारतीय मुक्केबाज को 4-1 से मात दी।