श्रीलंका संकट: एशिया कप पर मंडरा रहे संकट के बादल, प्रैक्टिस छोड़ पेट्रोल की लाइन में लगने को मजबूर हुए श्रीलंकाई क्रिकेटर

July 16th, 2022

हाईलाइट

  • भारत हमारा भाई जैसा देश है

डिजिटल डेस्क, कोलंबो। भारत के पड़ोसी देश श्रीलंका का हाल दिन-ब-दिन बद से बदतर होता जा रहा है। जनता के विरोध के चलते राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे देश छोड़कर भाग गए हैं। आर्थिक तंगी के चलते देश महंगाई, भुखमरी और हिंसा जैसी समस्याओं का शिकार हो गया है। खाने का सामान और पेट्रोल-डीजल लेने के लिए लोगों की लंबी-लंबी कतारें लगी हुई हैं। 

देश में फैली इन समस्याओं का असर अब यहां के सबसे लोकप्रिय खेल क्रिकेट पर भी हो रहा है। श्रीलंका के मशहूर क्रिकेटर चमीरा करुणारत्ने के मुताबिक, वह पेट्रोल की कमी के चलते प्रैक्टिस पर नहीं जा पा रहे। उन्होंने कहा ऐसी परिस्थितियों में पता नहीं कैसे एशिया कप और घरेलू क्रिकेट लीग का आयोजन हो पाएगा। 
 
दो दिन लाइन में लगने के बाद मिला पेट्रोल

न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए करुणारत्ने ने कहा, 'मेरी किस्मत अच्छी थी कि दो दिन लाइन में लगने के बाद पेट्रोल मिल गया, क्योंकि देश में ईंधन का संकट छाया हुआ है। मैं क्रिकेट प्रैक्टिस के लिए भी नहीं जा पा रहा हूं। मुझे 10 हजार का ही पेट्रोल मिल सका, जो सिर्फ 2 या 3 दिन ही चल सकेगा।'

एशिया कप पर पड़ सकता है आर्थिक संकट का असर 

करुणारत्ने के मुताबिक, अगस्त में होने जा रहे एशिया कप और श्रीलंका क्रिकेट लीग पर भी आर्थिक और ईघन संकट का असर पड़ सकता है। उन्होंने कहा, 'मैं ऐसे दिन यहां आया हूं, जब दो अहम सीरीज और लंका प्रीमियर लीग की घोषणा हुई है। एशिया कप भी आ रहा है, श्रीलंका प्रीमियम लीग का भी शेड्यूल है। मैं नहीं जानता कि क्या होने वाला है, क्योंकि मुझे प्रैक्टिस के लिए कोलंबो समेत कई अलग-अलग शहरों में जाना है। क्लब सीजन भी अटेंड करना है।' 

दो दिन प्रैक्टिस छोड़ पेट्रोल की लाइन में लगा रहा

करुणारत्ने ने के मुताबिक देश में पेट्रोल की कमी के चलते वह प्रैक्टिस पर नहीं जा सके क्योंकि वह पेट्रोल लेने के दो दिन लाइन में खड़े रहे। उन्होंने बताया कि, 'ईंधन की कमी के कारण मैं प्रैक्टिस पर नहीं जा पा रहा हूं। दो दिन से कहीं नहीं गया, क्योंकि पेट्रोल के लिए लाइन में लगा था। किस्मत से आज मिल गया, लेकिन 10 हजार का पेट्रोल सिर्फ दो या तीन दिन ही चलेगा। हमने हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच खेले, जो शानदार रहे। एशिया कप की तैयारियां भी जारी हैं।

भारत ने हमारी काफी सहायता की

 

बीते कई महीनों से आर्थिक संकट का सामना कर रहे श्रीलंका की उसके पड़ोसी देश भारत ने हरसंभव मद्द की है। भारत से मिली सहायता पर बोलते हुए करुणारत्ने ने कहा कि, भारत हमारा भाई जैसा देश है। उन्होंने हमारी काफी मदद की है। मैं उन्हें धन्यवाद देता हूं। हम परेशान हैं। जब भी हम स्ट्रगल करते रहे हैं, उन्होंने हमारा सपोर्ट किया है। उन्होंने जो कुछ किया, उसके लिए धन्यवाद।' 

खबरें और भी हैं...