comScore

FIFA WORLD CUP 2018- स्पेन फुटबॉल टीम के कोच को किया गया बर्खास्त

June 13th, 2018 19:29 IST
FIFA WORLD CUP 2018- स्पेन फुटबॉल टीम के कोच को किया गया बर्खास्त

हाईलाइट

  • 14 जून से शुरू हो रहा है फीफा वर्ल्ड कप
  • 14 जून से शुरू हो रहा है फीफा वर्ल्ड कप
  • वर्ल्ड कप की प्रबल दावेदार है स्पेन की टीम
  • 15 जून को है स्पेन का पहला मुकाबला

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। रूस में 14 जून से शुरू होने वाले फीफा वर्ल्ड कप के एक दिन पहले चौंकाने वाली घटना सामने आई है। FIFA WORLD CUP 2018 की प्रबल दावेदार माने जा रही स्पेन के कोच जुलेन लोपेटेगुई को स्पेनिश फुटबॉल महासंघ ने निकाल दिया है। स्पेन को 20 मैचों में से 14 मैच जितवाने वाले स्पेनिश नेशनल फुटबॉल टीम के कोच जुलेन को उस वक्त निकाला गया, जब विश्व कप शुरू होने में महज एक दिन बचा है। स्पेन को अपना पहला मुकाबला 15 जून को पुर्तगाल के खिलाफ खेलना है।

जुलेन को निकालते हुए स्पेन फुटबॉल महासंघ (RFEF) प्रमुख लुइस रूबियल्स ने कहा कि जुलेन को उनके पद से बर्खास्त किया जाता है, क्योंकि उन्होंने रियल मेड्रिड क्लब से करार किया है। इसकी जानकारी RFEF को नहीं दी गई। लुइस को यह जानकारी जुलेन के रियाल क्लब के साथ करार करने के 5 मिनट पहले मिली। लुइस ने कहा कि "मैं जानता हूं यह निर्णय काफी कठिन है और लोग इससे जरूर नाराज़ होंगे और विरोध करेंगे। उम्मीद करता हूं वो मेरे फैसले और मजबूरी को भी समझे। जुलेन मेरे भी आदर्श हैं और मेरी उनसे कोई दुश्मनी नहीं है। करार की जानकारी अगर पहले मिली होती तो बात कुछ और होती पर यह बात छुपाई गई।"

दरअसल, ज़िनेदिन ज़िदान ने स्पेन के घरेलू क्लब रियाल मैड्रिड के कोच पद से 31 मई को इस्तीफा दिया था। इसके बाद मंगलवार को रियाल मैड्रिड ने जुलेन को कोच नियुक्त किया था। रियाल ने यह जानकारी देते हुए कहा कि रियाल मैड्रिड जुलेन लोपेटेगुई को अगले तीन सत्र के लिए कोच नियुक्त करता है। वह विश्व कप के बाद टीम से जुड़ेंगे।

सूत्रों के अनुसार रूबियल्स को जब यह जानकारी मिली कि जुलेन रियाल के साथ करार करने पर सहमत हैं तो वह काफी परेशान हो गए थे। उन्होंने स्पेन लौटने के लिए मास्को में चल रहे फीफा कांग्रेस की बैठक भी छोड़ दी। कहा जा रहा है कि स्पेन के कप्तान सर्जियो रामोस सहित अन्य खिलाड़ियों ने इसका विरोध किया है। गौरतलब है कि स्पेन ने कोच जुलेन लोपेटेगुई के कार्यकाल में 20 मैचों में से 14 मैचें जीती है और बाकी छह मैच ड्रॉ रहे हैं। बता दें कि लोपेटेगुई ने अनुभव और प्रतिभा का अच्छा मिश्रण करते हुए स्पेन को लगातार 11वीं बार विश्व कप में जगह दिलाई थी।

कमेंट करें
VklDO