• Dainik Bhaskar Hindi
  • Sports
  • FIFA World Cup on Iran's target, attack was a conspiracy to spoil the event, Israeli military officer claimed

फीफा वर्ल्डकप 2022 : फुटबॉल के सबसे बड़े आयोजन पर मंडराए खतरे के बादल, ईरान के हमला करने की आशंका, इस देश ने किया आगाह

November 22nd, 2022

हाईलाइट

  • ईरान भी ले रहा है भाग

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कतर में फीफा वर्ल्डकप खेला जा रहा है। फुटबॉल के इस 22 वें मेगाइवेंट में दुनिया भर की 32 टीमें हिस्सा ले रही हैं। इस बीच खबर आ रही है कि यह टूर्नामेंट ईरान के निशाने पर है। वह इस पर हमला करना चाहता है। यह दावा इजरायल के सैन्य प्रमुख ने किया है। जेरुसलम पोस्ट की एक रिपोर्ट के मुताबिक, यह बात इजरायल के मेजर जनरल अहरोन हलीवा ने तेल अवीव में आयोजित राष्ट्रीय सुरक्षा अध्ययन संस्थान के सम्मेलन में कही। मेजर जनरल ने कहा कि ईरान को आतंकी हमले से रोकने वाली केवल यह चिंता थी कि टूर्नामेंट की मेजबानी कर रहा कतर इस पर क्या रिएक्शन देगा। 

ईरान भी ले रहा है भाग

फुटबॉल की दुनिया के इस सबसे बड़े इवेंट की शुरुआत रविवार (20-11-22) को हुई थी। ईरान भी इसमें हिस्सा ले रहा है। 21 नवंबर को इंग्लैंड के खिलाफ हुए मैच में ईरान की टीम ने अपना राष्ट्रगान गाने से मना कर दिया था। उसके ऐसा करने की वजह देश में चल रहा हिजाब प्रदर्शन बताया जा रहा है। मालूम हो कि ईरान में काफी लंबे समय से हिजाब को लेकर विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। इसी विरोध प्रदर्शन को समर्थन करते हुए ईरान के खिलाड़ियों ने राष्ट्रगान गाने से मना कर दिया था। 

सत्ता को लेकर चिंता मे थी ईरानी गर्वमेंट

रिपोर्ट के अनुसार, मेजर हलीवा ने कहा कि ईरान की हुकूमत अपनी सत्ता को लेकर चिंतित थी। देश में हिजाब को लेकर हो रहे प्रदर्शन लगातार उग्र हो रहे थे। साथ ही इसे लेकर पश्चिमी देशों की तरफ से भी उसे बैन का सामना करना पड़ रहा है। बता दें कि ईरान में इसी साल सितंबर में 22 वर्षीय महसा अमीनी को मोरल पुलिस ने हिजाब सही ढंग से न पहनने के चलते गिरफ्तार किया था। जहां कस्टडी में उनकी मौत हो गई थी। जिसके बाद से ही ईरान में हिजाब के विरोध में प्रदर्शन हो रहे हैं। इन प्रदर्शनों में महिलाएं भी बढ़चढ़ कर हिस्सा ले रही हैं।