दैनिक भास्कर हिंदी: IND vs AUS: गावस्कर बोले- कोहली की अनुपस्थिति में अन्य खिलाड़ियों के पास अपने खेल के स्तर को ऊपर उठाने का मौका 

December 15th, 2020

हाईलाइट

  • पहले टेस्ट के बाद लौट आएंगे कोहली
  • ऑस्ट्रेलियाई टीम को मिलेगा फायदा: बॉर्डर
  • कोहली गैर मौजूदगी में अन्य को ऊपर उठने का मौका

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दुनिया के दो दिग्गज बल्लेबाजों-सुनील गावस्कर और एलन बॉर्डर का मानना है कि आगामी टेस्ट सीरीज के अंतिम तीन मैचों से भारतीय कप्तान विराट कोहली के अनुपस्थित रहने से ऑस्ट्रेलिया को बहुत बड़ा फायदा होगा। कोहली ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 12 टेस्ट मैचों में 6 शतक और 3 अर्धशतक लगा चुके हैं।

गावस्कर ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि मुझे लगता है कि इससे ऑस्ट्रेलियाई टीम को बहुत बड़ा फायदा होगा, क्योंकि वह ऐसे खिलाड़ी है, जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया में 12 टेस्ट में छह शतक जमाए हैं। अंतिम तीन टेस्ट मैचों में कोहली को गेंदबाजी नहीं करना, ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए बहुत बड़ी राहत की खबर है।

पहले टेस्ट के बाद लौट आएंगे कोहली
पहला टेस्ट 17 दिसंबर से एडिलेड में दिन-रात में खेला जाएगा। इसके बाद कोहली अपने पहले बच्चे के जन्म के लिए भारत लौट आएंगे और बाकी के तीन मैचों में उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे टीम की कप्तानी करेंगे। गावस्कर के साथ-साथ बॉर्डर ने भी कहा कि 32 वर्षीय कोहली की अनुपस्थिति से भारतीय लाइन-अप में बहुत बड़ा गैप आ जाएगा।

ऑस्ट्रेलियाई टीम को मिलेगा फायदा: बॉर्डर
बॉर्डर ने कहा कि मैं उनसे सहमत हूं। उस लाइन-अप में एक बहुत बड़ा गैप होगा। मुझे लगता है कि ऑस्ट्रेलियाई टीम वास्तव में इसका फायदा उठाएगी, क्योंकि उन्हें बाकी तीन टेस्ट में कोहली को गेंदबाजी करने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

कोहली के बिना भी जीतती है टीम इंडिया
गावस्कर ने हालांकि साथ ही कहा कि कोहली की गैर मौजूदगी के बिना भी भारत प्रतिस्पर्धा कर सकता है, जैसा कि उसने पहले भी किया है और उनके बिना मैच जीता है। पूर्व कप्तान ने कहा कि जहां तक भारतीयों का सवाल है, तो हर बार जब कोहली नहीं खेलते, भारत जीता है। वह धर्मशाला टेस्ट (ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ) नहीं खेले। उनका कंधा चोटिल था। उस मैच में (अजिंक्य) रहाणे ने कप्तानी की और भारत जीता। वह अफगानिस्तान के खिलाफ भी टेस्ट में नहीं खेल थे, जोकि उनका पदार्पण टेस्ट होता। क्योंकि वह काउंटी क्रिकेट खेलना चाहते थे और उन्हें टेस्ट के लिए नहीं चुना गया। भारत ने वह टेस्ट भी जीता। तब भारत ने एशिया कप और निदास ट्रॉफी भी कोहली के बिना ही जीती।

कोहली गैर मौजूदगी में अन्य को ऊपर उठने का मौका 
उन्होंने कहा कि कोहली की गैर मौजूदगी में अन्य भारतीयों के पास अपने खेल को ऊपर उठाने का मौका होगा। जैसा मैंने कहा कि हालांकि यह ऑस्ट्रेलिया के लिए बहुत बड़ा फायदा देगा। भारतीयों के लिए उनके खेल को ऊपर उठाने का मौका होगा।

खबरें और भी हैं...