दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर में टीम इंडिया ने लिया ऑस्ट्रेलिया से बदला, इस तरह जमी रूप रेखा

October 2nd, 2017

डिजिटल डेस्क, नागपुर। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सीरीज का पांचवा वनडे मैच नागपुर में 1 अक्टूबर रविवार को खेला गया है। मैच जीतने के साथ ही भारत ने यह सीरीज 4-1 जीत ली है। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने बेंगलुरु में खेले गए चौथे वनडे में टीम इंडिया को 21 रनों से हरा कर दौरे की अपनी पहली जीत दर्ज की थी।

भारतीय टीम हालांकि सीरीज पहले ही जीत चुकी थी और इसलिए उन्हें चौथे वनडे में बेंच स्ट्रेंथ आजमाने का मौका मिला था। बेंगलुरु वनडे में उम्मीद के मुताबिक नतीजे तो नहीं मिले, लेकिन इससे टीम इंडिया के आत्मविश्वास में कोई असर नहीं पड़ा। टीम मैनेजमेंट ने अपना प्रयोग जारी रखा, जिससे 2019 वर्ल्ड कप के लिए कोर टीम तैयार की जा सके।

नागपुर मैच से पहले टीम इंडिया ने किया अभ्यास
टीम इंडिया ने शनिवार को नागपुर के विदर्भ क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में जमकर पसीना बहाया। दोनों टीमें रविवार को इसी मैदान पर भिड़ेंगी। भारत सीरीज में 3-1 से आगे हैं और श्रृंखला पहले ही जीत चुका है। वहीं गेंदबाजों ने भी अभ्यास के दौरान जमकर पसीना बहाया है। बता दें कि पिछले मैच में हार का एक बड़ा कारण गेंदबाजों का फ्लॉप प्रदर्शन ही था। पिछले मैच में टीम इंडिया के गेंदबाज मोहम्मद शमी, उमेश यादव और अक्षर पटेल काफी महंगे साबित हुए थे। हालांकि उमेश ने 4 विकेट जरूर लिए थे, लेकिन भारतीय गेंदबाज ऑस्ट्रेलिया को काफी रन दे चुके थे और कंगारू 334 के आकड़े तक पहुंचने में सफल हो गए थे।

भारतीय टीम में तीन बदलाव
इस मैच के लिए टीम ने तीन बदलाव किए थे, जिनमें चहल, शमी, उमेश, की जगह पर भुवनेश्वर, कुलदीप और बुमराह को अंतिम ग्यारह में जगह दी गई थी। जबकि ऑस्ट्रेलिया टीम में भी एक बदलाव हुआ, केन रिचर्डसन के बीमार होने की वजह से जेम्स फॉक्नर की टीम में वापसी का मौका मिला।

मैच से पहले क्यूरेटर ने कहा था कि 'पिच को लेकर पिछली आलोचना को देखते हुए उन पर कोई अतिरिक्त दबाव नहीं था।' उन्होंने कहा, ‘यह अच्छा मैदान था और पिच भी 2015 तक बढ़िया थी। लेकिन, उसके बाद से पिच खराब होती चली गई। हमने मार्च में पिच बदल दी है और इस बार इसका मिजाज अलग होगा। 'उन्होंने कहा, ‘हमने इसकी मिट्टी पूरी तरह से बदल दी है। अब इस पर अच्छी स्थानीय मिट्टी है।’