दैनिक भास्कर हिंदी: T-20 में न्यूजीलैंड से पहली बार जीता भारत, आशीष नेहरा की शानदार विदाई

November 2nd, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। इंडिया और न्यूजीलैंड के बीच दिल्ली के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में खेले गए पहले T-20 मुकाबले में भारत ने न्यूजीलैंड को 53 रनों से हरा दिया है। यह T-20 मुकाबले में न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत की पहली जीत है। 3 मैचों की इस सीरीज में इंडिया 1-0 से आगे हो गई है। इस जीत के साथ ही भारतीय गेंदबाज आशीष नेहरा ने भी अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर को अलविदा कह दिया है।


मैच में टॉस जीतकर न्यूजीलैंड ने टीम इंडिया को पहले बल्लेबाजी का न्यौता दिया। टीम इंडिया को ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन और रोहित शर्मा ने अच्छी शुरुआत दिलाई। दोनों बल्लेबाजों ने पहले पावरप्ले में 46 रन जोड़े। दोनों बल्लेबाजों ने 158 रन जोड़कर तीसरी बड़ी ओपनिंग साझेदारी भी की। इंडिया को पहला झटका 158 के स्कोर पर शिखर धवन के रुप में लगा। धवन ने 10 चौके और 2 छक्के की मदद से 80(52) रन बनाए। धवन के आउट होने के बाद हार्दिक पंड्या क्रीज पर आए और बिना खाता खोले ही आउट हो गए। इंडिया को तीसरा झटका रोहित के रुप में 19वें ओवर में लगा, रोहित ने 80(55) रन की पारी में 6 चौके और 4 छक्के लगाए। कोहली ने 11 बॉल पर 3 छक्कों की मदद से 26 रन बनाए वहीं धोनी ने 2 बॉल पर 7 रन बनाए। दोनों बल्लेबाज नॉट आउट रहे। 20 ओवर के खेल में भारत ने 3 विकेट खोकर 202 रन बनाए। न्यूजीलैंड की ओर से ईश सोड़ी ने 2 और ट्रेंट बोल्ट ने 1 विकेट लिया।


203 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए न्यूजीलैंड की टीम शुरू में ही लड़खड़ा गई। स्कोरबोर्ड पर अभी 6 रन ही थे कि ओपनर गुप्टिल ने अपना विकेट गवा दिया। वनडे सीरीज में निराशजनक प्रदर्शन करने वाले मार्टिन गुप्टिल एक बार फिर असफल रहे और 4 रन के निजी स्कोर पर चहल के शिकार बने। न्यूजीलैंड को दूसरा झटका कॉलिन मुनरो के रुप में लगा। मुनरो को भुवनेश्वर कुमार ने 7 रन के स्कोर पर आउट किया। टीम के 18 रन के स्कोर पर ही दोनों ओपनर पवेलियन लौट चुके थे। कप्तान केन विलियमसन और वनडे सीरीज में शानदार प्रदर्शन करने वाले टॉम लैथम ने टीम के स्कोर को कुछ आगे बढ़ाया। विलियमसन 28 रन के निजी स्कोर पर आउट हो गए। उनके बाद टॉम ब्रुस भी ज्यादा कुछ नहीं कर पाए और 10 रन के निजी स्कोर पर आउट हो गए। 83 रन पर 4 विकेट खोने के बाद न्यूजीलैंड मध्य और निचला क्रम पूरी तरह बिखर गया और एक के बाद एक विकेट चलते बने। ग्रेडहोम (0), निकोसल (6), टॉम लॉथम (39) और मिचेल सेंटनर (27) रन पर चलते बने। न्यूजीलैंड 20 ओवरों में 8 विकेट पर महज 149 रन बना पाई। भारत की ओर से चहल ओर अक्षर पटेल को 2-2, भुवनेश्वर,बुमराह और पंड्या को 1-1 विकेट मिला। इस मैच के साथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास लेने वाले आशीष नेहरा विकेट लेने में असफल रहे। उन्होंने 4 ओवर में 29 रन दिए।

 

अंतरराष्ट्री क्रिकेट से आशीष नेहरा का सन्यास

आशीष नेहरा ने कुछ हफ्तों पहले ही सन्यास की घोषणा कर दी थी। उन्होंने कहा थी कि वे अपना अंतिम मुकाबला दिल्ली के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में ही खेलेंगे। आज हुए इस मुकाबले से पहले टीम इंडिया ने उन्हें एक मोमेंटो सौंपकर उनकी विदाई को दमदार बना दिया।

आशीष नेहरा के इंटरनेशनल करियर की शुरुआत 1999 में श्रीलंका के खिलाफ हो गई थी, लेकिन वनडे में उन्होंने जिंबाब्वे के खिलाफ डेब्यू किया। 2001 में अपने डेब्यू मैच में नेहरा ने 2 विकेट झटके थे। इसके बाद से अब तक नेहरा ने 120 इंटरनेशनल वनडे खेले और 157 विकेट चटकाए, वहीं टी-20 में उन्होंने अब तक 26 मुकाबले खेले हैं और 34 विकेट अपने नाम किए हैं।


इसके अलावा नेहरा IPL में भी 88 मैच खेल चुके हैं, जिसमें भी वो काफी सफल गेंदबाज बनकर उभरे हैं। 88 मैचों में नेहरा के नाम 106 विकेट हैं। IPL में नेहरा मुंबई इंडियंस, दिल्ली डेयरडेविल्स, पुणे वॉरियर्स और चेन्नई सुपरकिंग्स की तरफ से खेल चुके हैं। फिलहाल नेहरा सनराइजर्स हैदराबाद टीम का हिस्सा हैं। 

 

वनडे और टी-20 में अपनी धाक जमाने वाले नेहरा का टेस्ट करियर उतना खास नहीं रहा। साल 1999 में श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट करियर की शुरुआत करने वाले नेहरा ने अपना आखिरी टेस्ट 2004 में पाकिस्तान के खिलाफ खेला था। रावलपिंडी में खेले गए इस मैच में नेहरा ने दोनों पारियों को मिलाकर 3 विकेट ही लिए थे। नेहरा ने अपने करियर में 17 टेस्ट मैच खेले, जिसमें उन्होंने 44 विकेट लिए। टेस्ट मैच में नेहरा एक बार भी 5 विकेट नहीं ले पाए। हालांकि कई बार नेहरा को खराब फिटनेस के कारण भी टेस्ट टीम में शामिल नहीं किया गया। आखिरकार 2007 में उन्होंने टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह दिया।