दैनिक भास्कर हिंदी: IPL 2018 : हैदराबाद और चेन्नई के बीच खिताबी जंग, CSK दो बार, SRH ने एक बार जीता है कप

May 27th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। आईपीएल 2018 के फाइनल में आज सनराइजर्स और चेन्नई सुपर किंग्स के खिताबी जंग होगी। मैच शाम 7 बजे से मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाएगा। आईपीएल-11 में इससे पहले हैदराबाद और चेन्नई के बीच 3 मुकाबले हुए हैं और तीनों ही बार चेन्नई की टीम हैदराबाद पर भारी पड़ी है। रिकॉर्ड धोनी बिग्रेड के साथ हैं और निश्चित तौर पर उनका मनोबल भी काफी ऊंचा है। धोनी की कप्तानी में चेन्नई सुपर किंग्स की टीम सातवीं बार आईपीएल के फाइनल में पहुंची है, वो दो बार साल 2010 और 2011 में आईपीएल का खिताब जीत चुकी है। बात अगर सनराइजर्स हैदराबाद की करें तो वो दूसरी बार आईपीएल के फाइनल में पहुंची है इससे पहले साल 2016 में हैदराबाद की टीम डेविड वॉर्नर की कप्तानी में चैंपियन बनी थी । 

 

Related image

 

खिताब पर धोनी बिग्रेड की नजर 

 

दो साल के बैन के बाद आईपीएल में लौटी चेन्नई सुपर किंग्स की टीम आज जब मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खिताबी जंग के लिए मैदान पर उतरेगी तो उसकी कोशिश हर हाल में तीसरी बार आईपीएल खिताब अपने नाम करने की होगी। चेन्नई ने टूर्नामेंट में शानदार खेल दिखाया है और आंकडे भी उसके पक्ष में दिख रहे हैं। चेन्नई के पास कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी, अंबाती रायडू, सुरेश रैना, शेन वाटसन जैसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने शानदार खेल दिखाया है। रायडू चेन्नई की ओर से सबसे सफल बल्लेबाज रहे हैं और अब तक 586 रन बना चुके हैं, जबकि धोनी (455), वाटसन (438) और रैना ने 413 रन बनाए हैं। चेन्नई के पास ब्रावो जैसा शानदार ऑलराउंडर भी है जो मुश्किल वक्त में गेंद और बल्ले दोनों से ही प्रदर्शन करने में सक्षम है। चेन्नई की गेंदबाजी की बात की जाए तो एक बार फिर कमान शार्दुल ठाकुर और ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा के हाथों में होगी।

 

Image result for CSK vs srh

 

हैदराबाद को हराना आसान नहीं 

 

भले ही आकंडे चेन्नई सुपर किंग्स के साथ हैं लेकिन सनराइजर्स हैदराबाद की टीम ने टूर्नामेंट में जिस तरह का खेल दिखाया है उसे हराना आसान नहीं है। हैदराबाद की गेंदबाजी उसकी असली ताकत है, राशिद खान, भुवनेश्वर कुमार, सिद्धार्थ कौन और शाकिब उल हसन ने टूर्नामेंट में जिस तरह से सधी और कसी हुई गेंदबाजी की है वो तारीफ के काबिल है। कोई दो राय नहीं कि अगर राशिद खान अपनी लय में दिखे तो चेन्नई के लिए मुश्किल बन सकते हैं। राशिद अभी तक टूर्नामेंट में 21 विकेट ले चुके हैं। हैदराबाद की बल्लेबाजी पूरी तरह से कप्तान केन विलियमसन और शिखर धवन पर निर्भर है और फाइनल में दोनों बल्लेबाजों को अपनी छवि के अनुरूप प्रदर्शन करना होगा। विलियमसन का बल्ला टूर्नामेंट में जमकर चला है। 

 

 

दोनों टीमें इस प्रकार हैं-

 

सनराइजर्स हैदराबाद : केन विलियमसन (कप्तान), भुवनेश्वर कुमार, शिखर धवन, शाकिब-अल-हसन, मनीष पांडे, कार्लोस ब्रेथवेट, यूसुफ पठान, ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर), राशिद खान, रिक्की भुई, दीपक हुड्डा, सिद्धार्थ कौल, टी. नटराजन, मोहम्मद नबी, बासिल थम्पी, के. खलील अहमद, संदीप शर्मा, सचिन बेबी, क्रिस जॉर्डन, तन्मय अग्रवाल, श्रीवत्स गोस्वामी, बिपुल शर्मा, मेहदी हसन और एलेक्स हेल्स।

 

चेन्नई सुपर किंग्स टीम : महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान/विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, सुरेश रैना, ड्वेन ब्रावो, शेन वॉटसन, अंबाती रायुडू, मुरली विजय, हरभजन सिंह, फॉफ डु प्लेसिस, सैम बिलिंग्स, दीपक चहर, लुंगी नगिदी, के.एम. आसिफ, कनिष्क सेठ, मोनू सिंह, ध्रुव शोरे, क्षितिज शर्मा, चैतन्य बिश्नोई, कर्ण शर्मा, इमरान ताहिर, शार्दुल ठाकुर, एन. जगादेसन।