comScore

आईएसएल-6 (सेमीफाइन-2, लेग-2 ) आज घर में बेंगलुरुसे भिड़ेंगी एटीके

March 08th, 2020 10:00 IST
 आईएसएल-6 (सेमीफाइन-2, लेग-2 ) आज घर में बेंगलुरुसे भिड़ेंगी एटीके

हाईलाइट

  • आईएसएल-6 (सेमीफाइन-2, लेग-2 ) आज घर में बेंगलुरुसे भिड़ेंगी एटीके

कोलकाता, 8 मार्च (आईएएनएस)। दो बार की विजेता एटीके आज हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के छठे सीजन के दूसरे सेमीफाइनल के दूसरे चरण में अपने घर सॉल्ट लेक स्टेडियम में मौजूदा विजेता बेंगलुरु एफसी का सामना करेगी।

बेंगलुरु ने अपने घर में खेले गए पहले लेग में एटीके को 1-0 से हराया था और इस लिहाज से उसका पलड़ा भारी है। हालांकि, बेंगलुरु को सिर्फ एक गोल की बढ़त प्राप्त है और एटीके दो गोल करते हुए यह मैच अपने नाम कर तीसरे खिताब की ओर से मजबूत कदम बढ़ाना चाहेगा।

एटीके को पता है कि उसके लिए बेंगलुरु को हराना आसान नहीं होगा, क्योंकि मौजूदा चैम्पियन का डिफेंस शानदार रहा है। रॉय कृष्णा, डेविड विलियम्स और इंदु बेदिया जैसे खिलाड़ियों को पहले लेग में बेंगलुरु के डिफेंस के आगे काफी परेशानी हुई थी।

बेंगलुरु ने 19 मैचों में सिर्फ 13 गोल खाए हैं और ऐसे में गोल करने के लिए एंटोनियो हाबास की टीम को घर में श्रेष्ठ खेल दिखाना होगा। एटीके का घर में रिकार्ड शानदार रहा है और यही बात इस टीम को मनोबल देगी। इस टीम ने इस सीजन में घर में नौ मैचों में से छह में जीत हासिल की है और घर में 18 गोल किए हैं।

सबसे अहम बात यह है कि लीग स्तर पर एटीके ने बेंगलुरु को अपने घर में 1-0 से हराया था।

एटीके के लिए इस मैच में अपने डिफेंस लाइन को मजबूत बनाए रखना होगा, क्योंकि बेंगलुरु में एक गलती उसके लिए भारी पड़ गई थी और टीम एक गोल खाने को मजबूर हुई थी। एटीके को अरिंदम भट्टाचार्य की गलती के कारण गोल खाना पड़ा था, जबकि बेंगलुरु की टीम अधिक मौके नहीं बना सकी थी।

बेंगलुरु की टीम एरिक पाटार्लू और सुनील छेत्री के सेट पीसेज की बदौलत जीत हासिल करना चाहेगी। डिमास डेल्गाडो की डिलिवरी एटीके के डिफेंस के लिए खतरा हो सकता है। ऐसे में एटीके के डिफेंस को हर हाल में इसका काट खोजना होगा।

बेंगलुरु की टीम खुलकर स्कोर नहीं कर पा रही है, लेकिन उसका डिफेंस शानदार खेल रहा है और इसी कारण यह टीम हर मैच में मबजूती से बनी रहती है। नीशू कुमार इस मैच में नहीं खेलेंगे और अल्बर्ट सेरान चोटिल हैं। ऐसे में बेंगलुरु अपने डिफेंस में बदलाव कर सकता है।

यह लड़ाई दो ऐसी टीमों के बीच है, जो तीसरी बार फाइनल खेलने को ललायित हैं। बेंगलुरु की टीम लगातार तीसरी बार फाइनल में पहुंचना चाहेगी और एटीके अपने तीसरे फाइनल के लिए प्रयास करेगी। बेंगलुरू का प्रयास खिताब बचाने की ओर कदम बढ़ाना होगा तो एटीके तीसरी बार यह खिताब जीतकर नया इतिहास रचना चाहेगी।

कमेंट करें
Oe9PU