comScore

प्रेरक है जाधव का बॉल ब्वॉए से जमशेदपुर एफसी तक का सफर

October 24th, 2019 13:00 IST
 प्रेरक है जाधव का बॉल ब्वॉए से जमशेदपुर एफसी तक का सफर

हाईलाइट

  • प्रेरक है जाधव का बॉल ब्वॉए से जमशेदपुर एफसी तक का सफर

नई दिल्ली, 24 अक्टूबर (आईएएनएस)। हमें आमतौर पर लगता है कि भारतीय फुटबाल में प्रेरक कहानियों की कमी है लेकिन ऐसा नहीं है। अनिकेत जाधव एक ऐसा नाम है, जिसने बॉल ब्वाए से लेकर भारत के अग्रणी फुटबाल क्लबों में से एक जमशेदपुर एफसी के लिए डेब्यू करके शीर्ष स्तर पर खेलने की चाह रखने वाले अपने जैसे हजारों युवाओं को प्रेरित किया है।

ज्यादा समय पहले की बात नहीं है जब 14 साल के अनिकेत हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पहले संस्करण में पुणे के बालेवाडी स्टेडियम में प्रीतम कोटाल और लैनी रोड्रिग्वेज की जैसे खिलाड़ियों को बॉल ब्वॉए के तौर पर गेंद को पास किया करते थे। अब यह खिलाड़ी लैनी और प्रीतम जैसे कई खिलाड़ियों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खेलता नजर आ रहा है।

फीफा अंडर-17 विश्व कप के लिए भारतीय टीम का हिस्सा रहे अनिकेत ने बीते दिनों ओडिशा एफसी के खिलाफ मुकाबले से आईएसएल में अपना पदार्पण किया। अच्छी बात यह रही कि अनिकेत की मौजूदगी में जमशेदपुर एफसी ने जीत हासिल करते हुए लीग के छठे सीजन का विजयी आगाज किया।

19 वर्षीय अनिकेत ने कहा, ईमानदारी से कहूं, तो अपने पहले हीरो आईएसएल सीजन में जमशेदपुर एफसी के साथ जुड़ने के लिए मैं बहुत उत्साहित था। मेरे लिए यह किसी सपने के सच होने जैसा है। कुछ साल पहले तक मैं यह सपना देखा करता था लेकिन अब मेरा यह सपना सच हो गया है।

यह पूछे जाने पर कि जमशेदपुर एफसी को आपने क्यों चुना, उन्होंने कहा, जब मैं युवा था तब मैं आईएसएल के पहले दो सीजन में पुणे के बेलवाडी स्टेडियम में बॉल ब्वॉय के तौर पर सुब्रतो पॉल और स्टीवन डियास (जमशेदपुर एफसी के सहायक कोच) जैसे दिग्गजों को फॉलो करता था । जमशेदपुर एफसी के साथ जुड़ने से पहले मैंने पांच-छह सीनियर खिलाड़ियों के साथ बातचीत की थी और सभी ने क्लब के बारे में अच्छी बातें कही थीं।

जमशेदपुर एफसी ने अनिकेत की प्रतिभा को पहचाना और पांचवें सीजन की समाप्ति के बाद उसने अनिकेत को इंग्लिश क्लब ब्लैकबर्न रोवर्स में तीन महीने की ट्रेनिंग के लिए भेजा। वहां उन्होंने शानदार अनुभव हासिल किया, जिसका वह आईएसएल में इस्तेमाल करना चाहते हैं।

अनिकेत ने कहा, मेरे लिए यह एक शानदार दौरा था। एक पेशेवर फुटबाल खिलाड़ी के रूप में मैंने बहुत कुछ सीखा। ब्लैकबर्न रोवर्स में खिलाड़ियों और कोचों से सीखने के लिए बहुत कुछ था, जिसे अब मैं इस सीजन में इस्तेमाल करूंगा।

जमशेदपुर एफसी ने पिछले सीजन अनिकेत के साथ करार किया था लेकिन बाद में इंडियन एरोज को लोन पर दे दिया था।

अनिकेत को निश्चित रूप से यह पता था कि अनुभवी सीके विनीत और भारत के अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी फारूख चौधरी जैसे दिग्गजों से पहले टीम शीट पर अपना नाम लिखना उनके लिए बहुत मुश्किल है। लेकिन उन्होंने निश्चित रूप से अपने तरीके से ही इस काम को अंजाम दिया है और आज वह अपने जैसे हजारों युवाओं के लिए प्रेरणा का स्रोत बन गए हैं।

कमेंट करें
6L4Fp