दैनिक भास्कर हिंदी: साइना का ‘दर्द’, पैसे दिए फिर भी ऐसा क्यों हुआ ?

April 3rd, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली ।  कॉमनवेल्थ गेम्स से ठीक पहले भारत की स्टार शटलर और कॉमनवेल्थ गेम्स में पदक की मजबूत दावेदार मानी जा रहीं साइना नेहवाल ने ट्विटर पर अपना गुस्सा और हैरानी जाहिर की है। साइना का ये गुस्सा इस बात को लेकर है कि पूरा खर्च देने के बाद भी उनके पिता का नाम उस लिस्ट में नहीं है, जो टूर्नामेंट के दौरान उनके साथ रह सकते हैं।

साइना ने ट्विटर पर जताया दुख

साइना नेहवाल ने पिता का नाम लिस्ट में न होने का दुख ट्विटर पर एक के बाद एक तीन ट्वीट कर जताया। पहले ट्वीट में साइना ने लिखा कि “मैं यह देखकर हैरान हूं कि जब कॉमनवेल्थ गेम्स के लिए हमने भारत से शुरुआत की थी तो मेरे पिता की टीम अधिकारी के रूप में पुष्टि की गई थी और मैंने इसका खर्च भी दे दिया था, लेकिन खेल गांव पहुंचने पर पता चला कि उनका नाम टीम अधिकारियों की लिस्ट में शामिल नहीं किया गया है। वह मेरे साथ रुक भी नहीं सकते।“

 

 

saina nehwal angry के लिए इमेज परिणाम

 

दूसरे ट्वीट में साइना ने लिखा कि “मेरे पिता मेरे मुकाबले भी नहीं देख सकते। न ही वह खेल गांव में प्रवेश कर सकते हैं और न ही मुझसे मिल सकते हैं।

साइना ने तीसरे ट्वीट मे लिखा कि “मुझे हर मुकाबले में उनके सपॉर्ट की जरूरत होती है, लेकिन मुझे समझ नहीं आ रहा है कि आखिर क्यों इस बारे में मुझे सूचना नहीं दी गई।“ 

 

 

 

 

आपको बता दें कि पूर्व में खेल मंत्रालय की ओर से आईओए को जो लिस्ट भेजी गई थी उसमें साइना नेहवाल के पिता हरवीर सिंह, पीवी सिंधू की मां विजया पुर्सेला और शूटर हिना सिद्धू के पति और कोच रौनक पंउित के नाम हटा दिए गए थे और साफ कहा गया था कि अगर वे जाना चाहते हैं तो उन्हें अपना खर्च खुद वहन करना होगा। इसके बाद 221 खिलाड़ियों सहित 325 सदस्यीय भारतीय टीम को भेजने की अनुमति जारी की गई थी जिनमें साइना के पिता, सिंधु की मां को उन 15 लोगों की लिस्ट में शामिल किया गया था, जिनका खर्च सरकार नहीं देगी।