दैनिक भास्कर हिंदी: बॉल टैंपरिंग : स्टीव स्मिथ-डेविड वॉर्नर पर 1 साल का बैन, IPL भी नहीं खेलेंगे

March 29th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट मैच में बॉल टैंपरिंग विवाद में फंसे स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर आखिरकार क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) ने कड़ा फैसला लिया है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने बॉल टैंपरिंग विवाद में नाम सामने आने के बाद स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर एक साल का बैन लगा दिया है। जबकि कैमरन बैनक्राफ्ट पर भी 9 महीने का बैन लगाने का फैसला लिया गया है। वहीं इस पूरे मामले में ऑस्ट्रेलिया के कोच डेरेन लेहमैन को मंगलवार को ही क्लीन चिट मिल चुकी है। 

पहली बार इतनी बड़ी सजा

बॉल टैंपरिंग विवाद सामने आने के बाद ये पहली बार है जब किसी खिलाड़ी को इतनी बड़ी सजा दी गई है। बॉल टैंपरिंग में सबसे पहले 2001 में सचिन तेंदुलकर का नाम सामने आया था। जिसके बाद उनपर एक मैच का बैन लगाया गया, लेकिन बाद में हटा लिया गया। इसके बाद पाकिस्तानी क्रिकेटर शाहिद आफरीदी का नाम आया, लेकिन उनपर भी सिर्फ 2 मैच का ही बैन लगाया गया। ये पहली बार है जब बॉल टैंपरिंग के मामले में एक साल का बैन लगाया गया है। स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर का एक साल का बैन अगले साल मार्च 2019 में खत्म होगा, जिसके बाद वो वर्ल्ड कप में खेल सकते हैं। वहीं कैमरन बैनक्राफ्ट पर लगा सस्पेंशन दिसंबर 2018 में खत्म हो जाएगा। 

 

 



IPL में भी नहीं खेलेंग दोनों खिलाड़ी

स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर एक साल का बैन लगने के बाद अब IPL में भी ये दोनों नहीं खेल पाएंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, IPL-2018 में स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर के खेलने पर पाबंदी लगा दी गई है। IPL में स्टीव स्मिथ इस साल राजस्थान रॉयल्स के कैप्टन थे, लेकिन विवाद सामने आने के बाद उनको कैप्टेंसी से हटाकर अजिंक्य रहाणे को कैप्टन बनाया गया था। वहीं डेविड वॉर्नर सनराइजर्स हैदराबाद के कैप्टन थे और बुधवार को ही उन्हें कैप्टेंसी छोड़नी पड़ी थी। हालांकि अब साफ हो गया है कि ये दोनों खिलाड़ी इस साल के IPL में नजर नहीं आएंगे।

क्या है बॉल टैंपरिंग विवाद?

- साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन ऑस्ट्रेलियाई ओपनिंग बैट्समैन कैमरन बैनक्राफ्ट बॉल टैंपरिंग करते हुए पकड़ाए। ग्राउंड पर मौजूद कैमरे में ये सब रिकॉर्ड हुआ।
- बैनक्राफ्ट को मैच के दौरान अपने जेब से कुछ चीज निकालते हुए देखा गया और बॉल के साथ छेड़छाड़ करते हुए पकड़ा गया। इसके बाद बैनक्राफ्ट ने अपनी जेब से पीले कलर की एक चीज निकाली और अपने ट्राउजर में छिपाने लगे, लेकिन ये सब कैमरे में रिकॉर्ड हो गया।
- बाद में पता चला कि बैनक्राफ्ट के हाथ में जो चीज थी वो एक टेप की तरह था, जिसका इस्तेमाल बॉल को एक साइड से खुरदुरा करने के लिए किया गया, ताकि बॉल स्विंग हो सके। 
- बॉल के साथ छेड़छाड़ का मामला सामने आने के बाद स्टीव स्मिथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बॉल टैंपरिंग की बात मानी थी। इसके बाद स्टीव स्मिथ ने कैप्टेंसी और डेविड वॉर्नर ने वाइस कैप्टेंसी से इस्तीफा दे दिया।

अब तक इस मामले में क्या हुआ?

- शनिवार ( 24 मार्च) को साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी कैमरन बैनक्राफ्ट बॉल के साथ छेड़छाड़ करते हुए पकड़ाए।
- शनिवार को ही तीसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद स्टीव स्मिथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बॉल टैंपरिंग की बात कबूल की।
- विवाद सामने आने के बाद रविवार (25 मार्च) को ऑस्ट्रेलिया के पीएम मैल्कम टर्नबुल ने इस घटना को 'शर्मनाक' करार दिया। साथ ही क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को निर्देश दिया कि स्टीव स्मिथ को कैप्टेंसी से हटाया जाए।
- रविवार को ही स्टीव स्मिथ ने कैप्टेंसी से इस्तीफा दे दिया। डेविड वॉर्नर ने भी वाइस कैप्टेंसी से इस्तीफा सौंप दिया। 
- रविवार शाम तक ICC ने स्टीव स्मिथ पर एक मैच का बैन लगा दिया और 100% फीस का जुर्माना लगाया। वहीं कैमरन बैनक्राफ्ट पर मैच फीस का 75% जुर्माना लगाया गया।
- सोमवार को स्टीव स्मिथ को IPL की टीम राजस्थान रॉयल्स की कैप्टेंसी से भी हटाया गया। उनकी जगह अजिंक्य रहाणे को कैप्टन बनाया गया।
- मंगलवार को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के CEO जेम्स सदरलैंड ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर और कैमरन बैनक्राफ्ट को टेस्ट सीरीज से वापस बुलाया। 
- बुधवार सुबह डेविड वॉर्नर ने IPL की टीम सनराइजर्स हैदराबाद की कैप्टेंसी से इस्तीफा दिया।
- बुधवार को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर एक साल का बैन लगाया। वहीं कैमरन बैनक्राफ्ट पर 9 महीने का बैन लगाया गया। 
- बुधवार दोपहर तक स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर के IPL-2018 खेलने पर भी रोक लगा दी गई।

विवाद के बाद टेस्ट सीरीज से हटे तीनों खिलाड़ी

वहीं बॉल टैंपरिंग विवाद सामने आने के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर और कैमरन बैनक्राफ्ट को साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज से भी हटा दिया और वापस बुला लिया गया है। इन तीनों की जगह मैट रेनशॉ, जो बर्न्स और ग्लेन मैक्सवेल को टीम में शामिल किया गया है। जबकि टिम पेन को अगले टेस्ट के लिए ऑस्ट्रेलिया का कैप्टन बनाया गया है।