दैनिक भास्कर हिंदी: यादें: कुलदीप ने कहा, टेस्ट कैप मिली थी तब निशब्द था

June 20th, 2020

हाईलाइट

  • टेस्ट कैप मिली थी तब निशब्द था : कुलदीप

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारतीय टीम के स्पिनर कुलदीप यादव ने बताया है कि जब 2017 में धर्मशाला में उन्हें आस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट कैप मिली थी तब वह निशब्द हो गए थे। कुलदीप ने अपनी टेस्ट टीम के साथी मयंक अग्रवाल के शो ओपन नेट्स विद मयंक पर बात करते हुए कहा, जब मुझे टेस्ट कैप मिली थी तो मैं निशब्द हो गया था। मुझे नहीं पता था कि क्या हो रहा है और दूसरे गोल क्या बोल रहे हैं क्योंकि यह मेरी जिंदगी का सबसे बड़ा पल था।

चाइनामैन गेंदबाज ने कहा, मुझे याद है कि मेरा पहला टेस्ट विकेट डेविड वार्नर था। मैं काफी भावुक हो गया था क्योंकि टेस्ट क्रिकेट खेलना मेरा सपना था और पहले ही दिन मुझे विकेट मिल गया था। यह सोने पर सुहागा जैसा था। इसलिए मैं और भावुक हो गया था।

इस मैच में कुलदीप ने चार विकेट लिए थे। भारत ने इस मैच को आठ विकेट से अपने नाम किया था। कुलदीप ने अपनी दूसरी वनडे हैट्रिक के बारे में भी बात की जो उन्होंने पिछले साल दिसंबर में वेस्टइंडीज के खिलाफ ली थी। उन्होंने कहा, यह मेरे जीवन की बड़ी उपलब्धि थी। विश्व कप के बाद लंबे अरसे के बाद हम लोग खेल रहे थे क्योंकि या तो मैं खेलता था या युजवेंद्र चहल। इसलिए मैं टीम में वापसी कर रहा था।

कुलदीप ने इस हैट्रिक में शाई होप, जेसन होल्डर, अल्जारी जोसेफ के विकेट लिए थे। उन्होंने कहा, मुझे विश्वास था कि मैं हैट्रिक ले सकूंगा क्योंकि निचले क्रम के बल्लेबाज खेल रहे थे। यह हैट्रिक हमेशा से मेरे लिए सबसे विशेष रहेगी।

 

खबरें और भी हैं...