मेघालय : मेघालय के मुख्यमंत्री ने जुआ अधिनियम को निरस्त करने की मांग खारिज की

May 22nd, 2022

हाईलाइट

  • मेघालय गेमिंग अधिनियम

डिजिटल डेस्क, शिलांग। मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड के. संगमा ने शनिवार को मेघालय गेमिंग अधिनियम, 2021 को निरस्त करने से इनकार करते हुए कहा कि इस अधिनियम को समाप्त करने से सरकारी राजस्व को 8-10 करोड़ रुपये का नुकसान होगा। राज्य में जुआ को वैध बनाने के सरकार के कदम का विरोध करने वाले राजनीतिक दलों, चर्च और अन्य संगठनों द्वारा मेघालय गेमिंग अधिनियम, 2021 को निरस्त करने की मांग के जवाब में संगमा ने कहा : यदि अधिनियम को निरस्त किया जाता है, तो वहां गेमिंग को विनियमित करने के लिए कुछ भी नहीं होगा।

मुख्यमंत्री केंद्र सरकार के संयोजक भी हैं। उन्होंने कैसीनो, रेस कोर्स और ऑनलाइन गेमिंग पर संभावित जीएसटी दरों का अध्ययन करने के लिए मंत्रियों के समूह का गठन किया है। उन्होंने कहा कि मेघालय गेमिंग अधिनियम, 2021 मौजूदा जुआ पार्लरों को विनियमित करने के लिए महत्वपूर्ण है, जो पिछले 25 साल से राज्य में चल रहे हैं। राज्य में कई वर्षो से जैकपॉट और ऑनलाइन गेमिंग पार्लर सक्रिय होने की बात कहते हुए उन्होंने कहा कि वे सरकार को टैक्स नहीं दे रहे हैं।

 

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.